94 पीठासीन अधिकारियों पर सीडीओ नाराज

 94 पीठासीन अधिकारियों पर सीडीओ नाराज



बलिया: लोकसभा चुनाव में लगाए गए मतदान कार्मिकों में 94 पीठासीन अधिकारियों ने अपना स्टेशनरी वाला थैला नहीं उठाया है। हालाँकि इन्होंने प्रशिक्षण में प्रतिभाग भी किया है और ट्रेनिंग लेकर चले गए हैं। इनकी जगह उनकी पार्टी के मतदान अधिकारी प्रथम ने स्टेशनरी प्राप्त की है। इस पर मुख्य विकास अधिकारी बद्रीनाथ सिंह ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने चेतावनी दी है कि मतदान अधिकारी प्रथम से अपना स्टेशनरी प्राप्त कर निर्वाचन कार्यालय को अवगत कराएं। अन्यथा की दशा में निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य के प्रति लापरवाही के आरोप में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बताया कि इन लापरवाह पीठासीन अधिकारियों को चिन्हित करने की कार्रवाई की जा रही है।

अनफिट मिले 145 कर्मी, कटेगी ड्यूटी

लोकसभा चुनाव में ड्यूटी करने में 145 कर्मचारी सक्षम नहीं लाए गए हैं। कुल 207 कर्मचारियों ने अपना आवेदन दिया था और विकास भवन में तीन दिनों तक बैठी मेडिकल बोर्ड ने जांच की थी। इसमें 52 कर्मचारी फिट पाए गए। लेकिन 145 कर्मी ऐसे मिले, जो किन्हीं स्वास्थ्य कारणों से ड्यूटी नहीं कर सकते थे। अनफिट मिले इन कर्मचारियों को ड्यूटी से मुक्त रखा जाएगा।

 2431 कार्मिकों ने किया  मतदान

मतदान कार्मिकों ने शनिवार को भी अपने मताधिकार का प्रयोग किया। प्रशिक्षण लेने आए कर्मियों में 742 ने चौथे दिन वोटिंग में हिस्सा लिया। टाउन डिग्री कालेज के मनोरंजन हाल में विधानसभा वार बने फेसिलिटेशन सेंटर में कर्मचारियों ने मतदान किया। इस तरह कुल मिलाकर अब तक 2431 मतदान कार्मिक इस लोकसभा चुनाव में अपना मत डाल चुके हैं। मतदान के दौरान सम्बन्धित तहसील के एसडीएम या तहसीलदार मौजूद रहे।
पोस्टल बैलेट से हो रहे मतदान के चौथे दिन विधानसभा सदर में 133 वोट, फेफना में  27 और बैरिया में 59 मत पड़े। इसी प्रकार सलेमपुर संसदीय सीट के तहत आने वाली विधानसभा बेल्थरारोड में 133 वोट, सिकन्दरपुर में 185 और बांसडीह में 91 कर्मचारियों ने अपना वोट दिया। शनिवार को घोषी लोकसभा के रसड़ा विधानसभा में भी 114 वोट पोस्टल बैलेट के माध्यम से पड़े।

प्रशिक्षण के चौथे दिन 1564 कर्मचारी हुए ट्रेंड

 मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षण के चौथे दिन शनिवार को 291 पार्टियों के कुल 1564 कर्मियों को ट्रेंड किया गया। हालाकिं चौथे दिन भी 33 कर्मचारी गैरहाजिर रहे, जिनमें 5 पीठासीन अधिकारी, 7  मतदान अधिकारी प्रथम, 15 मतदान अधिकारी द्वितीय और 6 मतदान अधिकारी तृतीय थे।
हर रोज की तरह प्रशिक्षण में ट्रेनरों ने मतदान प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी दी। कहा कि मशीन के रखरखाव के प्रति सतर्कता जरूर बरतें। अगर कोई जानकारी अधूरी हो तो उसे पूछकर क्लियर कर लें।

 चुनाव खर्च का हुआ द्वितीय निरीक्षण


 लोक सभा सामान्य निर्वाचन- 2019 को संपन्न कराने के लिए 71- सलेमपुर तथा 72- बलिया के उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का द्वितीय निरीक्षण कोषागार में हुआ। दोनों लोकसभा के व्यय प्रेक्षक की मौजूदगी में यह जांच हुई। इस दौरान जिस किसी उम्मीदवार द्वारा अपने रजिस्टर के अनुसार अंकित खर्चे को छाया प्रेक्षण में कम खर्च दिखाया गया है, उनको रिटर्निंग ऑफिसर की तरफ से एक नोटिस दी जा रही है। उम्मीदवार को 48 घंटे के अंदर उसका जवाब देना होगा। मुख्य कोषाधिकारी प्रकाश सिंह ने बताया कि जवाब संतोषजनक नहीं पाए जाने की स्थिति में नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

 उपनाम के स्टिकर पर आयोग सख्त

 लोक सभा सामान्य निर्वाचन में सलेमपुर तथा बलिया के कुछ उम्मीदवारों के वाहनों पर उपनाम के स्टीकर लगे हुए हैं। इसको चुनाव आयोग ने गंभीरता से लिया है। ऐसी स्थिति में इनके ऊपर समुचित वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। साथ ही उनके वाहनों को जब्त कर लिया जाएगा और प्रत्याशी के चुनाव प्रचार खर्चे में इसे शामिल भी कर लिया जायेगा।


By-Ajit Ojha

Post Comments

Comments

Latest News

दुनिया को असमय अलविदा करने वाले शिक्षक के घर मदद लेकर पहुंचा राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ दुनिया को असमय अलविदा करने वाले शिक्षक के घर मदद लेकर पहुंचा राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ
बलिया : अपने व्यवहार से सभी के दिल में खास जगह बनाकर दुनिया को असमय अलविदा करने वाले शिक्षा क्षेत्र...
बलिया में भीषण सड़क हादसा : शादी समारोह से लौट रही सफारी पलटी, चार युवकों की दर्दनाक मौत
एक बार फिर बदल गया 8वीं तक के स्कूल संचालन का समय
25 अप्रैल 2024 : जानिएं क्या कहते है आपके सितारे, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया में किसानों की जमीन पर बाढ़ विभाग की दखल, अन्नदाताओं ने JE के खिलाफ दी तहरीर
बलिया : बोलेरो की टक्कर से बाइक सवार शिक्षक की मौत, दो युवक घायल
बलिया : ड्यूटी पर तैनात सिपाही का बल्ब चुराते वीडियो वायरल !