बलिया : NEET क्वालीफाई कर शिक्षिका पुत्री प्रियंका ने साकार किया दिवंगत मां का सपना

बलिया : NEET क्वालीफाई कर शिक्षिका पुत्री प्रियंका ने साकार किया दिवंगत मां का सपना

बलिया : नीट परीक्षा में सफलता का परचम लहराकर प्रियंका वर्मा ने अपनी दिवंगत मां के सपने को साकार किया है। प्रियंका वर्मा ने नीट परीक्षा के कुल अंक 720 में 701 नंबर प्राप्त कर न सिर्फ घर-परिवार, बल्कि सीयर का भी नाम रोशन किया है। ऑल इंडिया में प्रियंका की रैंक 1523 है।

शिक्षा क्षेत्र सीयर के प्राथमिक विद्यालय चकिया पर तैनात प्रधानाध्यापिका प्रेमलता मौर्या पिछले साल असमय ही दुनिया से विदा हो गई थी। दिवंगत शिक्षिका प्रेमलता मौर्या की पुत्री प्रियंका शुरू से मेधावी छात्रा रही है। सेंट जेवियर्स स्कूल पिपरौली बड़ागांव बेल्थरा रोड से 2020 में इंटर पास कर प्रियंका एलएन कोचिंग कोटा से नीट की तैयारी की, जिसका परिणाम सुखद आया है। 

सेंट सेविर्स स्कूल के प्रधानाचार्य जेआर मिश्रा व उप प्रधानाचार्य शीला मिश्रा ने प्रियंका वर्मा के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए परिजनों व क्षेत्र वासियो को बधाई दिया है। अपनी सफलता को प्रियंका ने अपनी दिवंगत मां की प्रेरणा को समर्पित किया है। इनके पिता रामानंद वर्मा पीएचसी सीयर पर कार्यरत है।

प्रियंका की सफलता पर बधाइयों का ताता लगा है। बधाई प्रेषित करने वालो में प्रमुख रूप से जय प्रकाश मौर्य, आशीष मौर्य, विनोद कुमार वर्मा, विनोद मौर्य, कृष्ण कांत यादव, नन्द लाल शर्मा, देवेंद्र वर्मा, वीरेंद्र यादव, कृष्णा नन्द सिंह है।

यह भी पढ़े बलिया पुलिस के हत्थे चढ़ा युवक, संगीन अपराध में भेजा गया जेल

Tags:

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया कोतवाल संजय सिंह लाइनहाजिर बलिया कोतवाल संजय सिंह लाइनहाजिर
Ballia News : पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने बलिया कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक संजय सिंह को तात्कालिक प्रभाव से पुलिस...
गरीबी और बदनसीबी से जूझ रहे परिवार के बीच 'राहत' लेकर पहुंचा बलिया का मदद संस्थान
क्या सच में केरल सरकार ने की है अपने 'विदेश सचिव' की नियुक्ति, मुख्य सचिव ने जारी किया यह बयान
बलिया में मासूम बालिका से दुष्कर्म, 28 साल के आरोपी युवक को मिली 25 साल की सजा
बलिया पुलिस के हत्थे चढ़ा युवक, संगीन अपराध में भेजा गया जेल
सावन में घर बैठे स्पीड पोस्ट से प्राप्त करें श्री सोमनाथ आदि ज्योतिर्लिंग मंदिर का प्रसाद
बलिया डीएम का आदेश, मुख्यालय न छोड़ें अधिकारी