खर्च किये 43 हजार फिर भी नहीं लगाया "चूना"

खर्च किये 43 हजार फिर भी नहीं लगाया "चूना"



रसड़ा (बलिया)।  एक तरफ प्रदेश  सरकार ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सर्व शिक्षा अभियान चलाकर लोगों को शिक्षा के प्रति जागरूक करने के लिए अभियान चला रही है  विकास के नाम पर लोगों का दिल  जीतना चाहती है वहीं दूसरी तरफ बलिया जनपद का परिषदीय स्कूलों के शिक्षक शासनादेश को अंगूठा दिखाकर लापरवाही बरत रहे हैं ।

ऐसा ही कुछ नजारा शिक्षा क्षेत्र रसड़ा के प्राथमिक विद्यालय मंदा पर देखने को मिला गांव के बच्चे 7,30 बजे ही स्कूल पर पहुंच गए लेकिन 8 बजे तक विधालय का ताला बंद रहा और शिक्षक नदारद रहे ।
चिलचिलाती धूप के बीच बच्चें देर तक बच्चे धूप में खड़े रहे लेकिन 8 बजे तक कोई भी शिक्षक वहा नहीं पहुंचा स्कूल बंद की सूचना अखण्ड भारत न्यूज़ संवाददाता ने एनपीआरसी सहित उच्चधिकारियो को दूरभाष के जरिए अवगत कराया ।

सूचना पाकर एनपीआरसी नमोनारायण सिंह वहां पहुंच गए इसी बीच विधालय के प्रधानाध्यापिका असगरी खातून व सहायक अध्यापिका अनुराधा सिंह भी वहां   आनन-फानन में वहां पहुंची और विधालय का ताला खुलवाया एनपीआरसी ने निरीक्षक के दौरान दो शिक्षामित्रों विभा सिंह,व सरोज पांडेय को 9 बजें तक नहीं आने पर अनुपस्थित करते हुए विधालय के शिक्षकों के घोर लापरवाही के प्रति उनके विरुद्ध कार्रवाई किए जाने की रिपोर्ट खण्ड शिक्षाधिकारी को भेज दी  । वहीं भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबकर  सरकार के अरमानों को तार तार कर रहे  है। रंगाई पुताई के नाम पर  लाखों रुपए तनख्वाह पाने वाले प्रधानाध्यापक व शिक्षक बन्दर बांट कर रहे हैं।
बताते चलें कि रसड़ा शिक्षा क्षेत्र में कुल 174 प्राथमिक विद्यालय है बानगी के तौर पर प्राथमिक विद्यालय मंदा को ही ले  ले तो बताते चलें कि यहां रंगाई पुताई के नाम पर 43 हजार रुपए का व्यय बिल कागजों पर दिखाया गया किन्तु धरातल पर सच्चाई यह है कि यहां सफाई का आलम यह है कि शौचालय की दीवाल व पूरा शौचालय नारकीय बना हुआ है  वहीं विधालय पर स्लोगन अंकित नहीं बताते चलें कि यह प्राथमिक विद्यालय तो मात्र एक उदाहरण है ।

14700, रंग 3400, मेडिकल फ्रास्टेड बाकस, फर्स मेनटेनेंस 8000,मैट 2000, फायर सेफ्टी 2400, टेबुल 2700, 2200 पुताई मज़दूरी आदि ख़र्च दिखाकर 47 हजार रुपए का बन्दर बांट किया गया है  । क्षेत्रीय समाजसेवीयो ने सरकार से जनपद में इस विभाग को उच्च अधिकारियों से जांच कराकर कठोर कार्रवाई कराने की मांग की है ।

रिपोर्ट पिन्टू सिंह

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें
Mahashivratri 2024 : भारतवर्ष में देवाधिदेव आशुतोष भगवान शिव की पूजा सबसे अधिक की जाती है। वैसे तो भगवान शिव...
4 मार्च का राशिफल : जानिएं क्या कहते है आपके सितारें
बलिया पहुंचे मंत्री एके शर्मा ने किया कई विकास कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास, बोले- ताजा हो गई बचपन की यादें
बलिया के लाल को मिला श्याम सुन्दर दास पुरस्कार, मुस्कुराया साहित्य जगत 
बलिया : बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी से कतरा रहे शिक्षकों के लिए बुरी खबर, बीएसए ने जारी किया यह निर्देश
बलिया में चोरी की बाइक पर फर्राटा भर रहा था युवक, पड़ी पुलिस की नजर
बलिया में दबंगई का शिकार हुआ युवक, मौत की सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस