रेल कर्मियों एवं मजदूरों का प्रतिदिन हो रही थर्मल स्क्रीनिंग

रेल कर्मियों एवं मजदूरों का प्रतिदिन हो रही थर्मल स्क्रीनिंग


वाराणसी। विश्व व्यापी कोरोना महामारी के चलते सम्पूर्ण भारत वर्ष में सम्पूर्ण लाॅकडाऊन घोषित होने के उपरांत आवश्यक उपयोग की वस्तुओं एवं चिकित्सीय सामग्री इत्यादि की उपलब्धता को आम जनमानस तक सुनिश्चित करने के लिए माल गाड़ियों तथा विशेष पार्सल ट्रेनों के परिचालन के माध्यम से वाराणसी मण्डल सफलतापूर्वक आवश्यक सामग्रियों की आपूर्ति पूरी कर रहा है।

वाराणसी मण्डल के मंडल रेल प्रबन्धक विजय कुमार पंजियार के कुशल नेतृत्व में उत्तर प्रदेश के 12 जिलों यथा वाराणसी, मिर्जापुर, भदोही प्रयागराज, चंदौली, गाजीपुर, बलिया, मऊ, आजमगढ़, देवरिया, जौनपुर, गोरखपुर एवं बिहार के 05 जिलों यथा सारण, सीवान, महराजगंज, गोपलगंज एवं चंपारण में रहने वाली सात करोड़ की अनुमानित आबादी को खाद्यान्न एवं चिकित्सीय सामग्री की आपूर्ति एवं इस क्षेत्र की सामाजिक-आर्थिक गति को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों तक श्रमिकों व ट्रकों की कमी के बावजूद मालगोदामों पर अनलोडिंग/लोडिंग सुनिश्चित की जा रही है। इस कठिन समय में  वाणिज्य एवं परिचालन विभाग द्वारा खाद्यान्न एवं चिकित्सीय सामग्री की ढुलाई करना एक बड़ी चुनौती थी। कोविड-19 संकट के इस अत्यंत महत्वपूर्ण चरण में, वाराणसी मंडल ने देश एवं क्षेत्र की अपेक्षाओं को पूरा करना जारी रखा है।

इस लॉकडाउन अवधि में वाराणसी मण्डल का प्रदर्शन उल्लेखनीय रहा है। इस अवधि में 28 रेक  खाद्यान्न-गेंहू, चावल इत्यादि, 15 रेक  उर्वरक ,10 रैक पेट्रोल एवं डीजल , 09 रेक कोयले, 14 रेक सीमेन्ट ,07 रेक बैलास्ट,01 रेक नमक तथा पाॅच हजार किलो छोटे पार्सल उतारे गए हैं एवं 06 रेक (लगभग 15000 टन) चावल लोड की गई है तथा देश के विभिन्न भागों में लगभग 6500 किलोग्राम छोटे पार्सल तथा 250 किलो कोविड-चिकित्सीय सामग्री भेजी गयी हैं। इस प्रक्रिया में औसतन प्रतिदिन चार सौ दिहाड़ी मजदूरों को रोजगार प्राप्त हुआ। इन सभी मजदूरों को मण्डल प्रशासन द्वारा कोविड सुरक्षा सेनिटाइजेशन किट (सेनिटाइजर, साबुन, हाथों के दस्ताने, फेस मास्क, रूमाल) प्रदान की गयी तथा सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए माल/पार्सल के लदान/उतरान का कार्य सम्पन्न कराया गया। 

कार्य करने वाले सभी कर्मचारियों एवं मजदूरों का प्रतिदिन थर्मल स्क्रीनिंग

इस लॉकडाउन अवधि में मण्डल में आकस्मिक डियूटी पर आपातकालीन वाहनों द्वारा कर्मचारियों को उनके निवास स्थान से कार्य स्थलों तक लाने व भेजने की व्यवस्था की गयी है। ताकि कर्मचारियों को आवागमन में कोई परेशानी न हो। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की श्रृंखला को जारी रखते हुए वाराणसी मंडल केे सेक्शन कंट्रोलरों, स्टेशन मास्टरों, गार्ड्स, शंटिंग स्टाफ, पॉइंट्समैन और क्रू स्टाफ के साथ रेलवे अधिकारी दिन-रात काम कर रहे हैं। परिचालन अधिकारियों द्वारा टर्मिनल रिलीज/श्रम उपलब्धता के लिए जिला स्तर पर जिलाधिकारी/पुलिस अधीक्षक के साथ-साथ राज्य सरकार के समन्वय अधिकारियों के साथ शीर्ष स्तर पर निरंतर समन्वय किया जा रहा है।      

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया में भीषण सड़क हादसा : शादी समारोह से लौट रही सफारी पलटी, चार युवकों की दर्दनाक मौत बलिया में भीषण सड़क हादसा : शादी समारोह से लौट रही सफारी पलटी, चार युवकों की दर्दनाक मौत
बलिया : एनएच 31 पर स्थित फेफना थाना क्षेत्र के राजू ढाबा के आस पास हुए सड़क हादसे में चार...
एक बार फिर बदल गया 8वीं तक के स्कूल संचालन का समय
25 अप्रैल 2024 : जानिएं क्या कहते है आपके सितारे, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया में किसानों की जमीन पर बाढ़ विभाग की दखल, अन्नदाताओं ने JE के खिलाफ दी तहरीर
बलिया : बोलेरो की टक्कर से बाइक सवार शिक्षक की मौत, दो युवक घायल
बलिया : ड्यूटी पर तैनात सिपाही का बल्ब चुराते वीडियो वायरल !
जीवनसाथी की हत्या : बलिया में पत्नी ने उजाड़ दिया खुद का सुहाग