सम्भलते रहे हैं सम्भल जाएंगे साहब, हम बलिया वासी हैं...

सम्भलते रहे हैं सम्भल जाएंगे साहब, हम बलिया वासी हैं...



कोरोना वायरस (कोविड 19) को लेकर प्रधानमंत्री के निर्देश पर 21 दिन का लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे में पुलिस की मेहनत काफी बढ़ गई है। वहीं हर नागरिक भी सचेत हो गया है। सरकार की तरफ से भी निर्देश है कि किसी को कोई कमी न रहे। साहब हम बलिया वासी हैं ऐसी परिस्थितियों में हम सम्भलते रहे हैं, सम्भल जाएंगे साहब। घर में रहकर कोरोना को भगा देंगे। दिक्कत उन्ही से है जो हमें बेचते रहे है।

हर तरफ से हम पुलिस पर ही क्यों लगाते हैं आरोप, नजरिया बदलनी होगी

कोरोना वायरस इतना खतरनाक है कि इसके त्रासदी को भारत झेल रहा है। उसी के मद्देनजर लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे में पुलिस की ड्यूटी बढ़ गई है। सुरक्षा के लिहाज से इनके बिना चलना मुश्किल है। अगर पुलिस किसी पर डंडा चलाती है तो आप पुलिस के दुश्मन नही है। नजरिया बदलनी होगी। 
देश संकट की स्थिति से गुजर रहा है। जब तक हम सब सहयोग नही करेंगे तो इससे निजात पाना मुश्किल है। इसलिए घरों में कैद रहना है। इतने से ही हमारा महान भारत विश्व पटल पर अपना जगह कायम रखेगा। जैसा कि प्रधानमंत्री जी ने कहा था कि पुलिस, एम्बुलेंस के चालक, स्वास्थ्य विभाग जान जोखिम में डालकर देश की जनता के लिए काम रहा है। मीडिया 24 घण्टा आप तक सूचना देने में लगी रहती है। आप सब का सहयोग जरूरी है। प्रधानमंत्री ने इतना ही नहीं कहा था, बल्कि यह भी कहा था कि लॉकडाउन कर्फ्यू से भी बढ़कर होगा। सख्ती भी की जाएगी। वैसे पुनः अपनी बात को लिख रहा हूं। हम बलिया वासी ऐसे में घरों में बैठकर देश हित में कोरोना को भगाने की कोशिश करें। पुलिस का ही नही, सबका सहयोग इतने से ही हो जाएगा। शुभकामनाएं हैं। 

पापा कोरोना को भगाना है न, चार साल का बच्चा बोला व्रत किया हूं

मैं चकित रह गया, जब मेरा चार साल का बच्चा बोला पापा कोरोना को भगाना है न, मैं व्रत किया हूं। दरअसल रामनवमी पर हम भी देखते आये हैं। दुर्भाग्य है कोरोना का कहर है। शंकरपुर भगवती के यहां चैत का जलसा लगता था। वहां मेला लगता था। इतिहास में पहली बार सन्नाटा पसरा रहा। जहां तोता लोग बेचने आते थे। लोग घरों में तोता खरीदकर ले जाते थे। हनुमानगंज, ब्राम्हणी देवी, रेवती के पास पचरुखा देवी, मनियर के नवका बाबा और बुढ़वा बाबा के यहां भी अन्य प्रांतों से लोग आते थे। लेकिन बच्चा के व्रत वो भी कोरोना को भगाने के लिए मुझे सोचने पर मजबूर कर दिया कि ऐसी महामारी को एक बच्चा समझ सकता है तो हम क्यों नहीं ? इसलिए घर में रहें-सुरक्षित रहे। हारेगा कोरोना-जीतेगा भारत।

साभार : नरेन्द्र मिश्र वरिष्ठ पत्रकार, बलिया


Post Comments

Comments

Latest News

बलिया के चर्चित चौराहा पर एडीजी का छापा, हिरासत में लिए गये तीन पुलिसकर्मियों समेत कई लोग बलिया के चर्चित चौराहा पर एडीजी का छापा, हिरासत में लिए गये तीन पुलिसकर्मियों समेत कई लोग
Ballia News : जनपद के नरही थाना क्षेत्र अंतर्गत भरौली गोलम्बर पर एडीजी वाराणसी जोन पीयूष मोर्डिया ने गुरुवार को...
बलिया में पेड़ से टकराई बाइक, दो युवकों की दर्दनाक  मौत ; मचा कोहराम
25 जुलाई 2024 : अपने लिए कैसा रहेगा गुरुवार, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया से घर लौट रहे थे विशाल, रास्ते से झपट ले गई मौत
बलिया बीएसए ने ऐसे स्कूलों के खिलाफ छेड़ा अभियान, 6 विद्यालयों पर लगा ताला ; बढ़ी औरों की बेचैनी
बलिया का चर्चित हत्याकांड : रोहित पांडेय के घर पहुंचे कैबिनेट मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह, बोले...
बलिया : रोडवेज बस और बाइक में सीधी टक्कर, एक ही गांव के तीन युवकों की मौत, दो घायल