बलिया : पत्रकार की बेटी ने मां को समर्पित की यह कविता, 12वीं की छात्रा है कामना

बलिया : पत्रकार की बेटी ने मां को समर्पित की यह कविता, 12वीं की छात्रा है कामना

मडर्स डे पर विशेष

मां


मां तुमसे ही हम दुनिया में आते है,
फिर तुम ही को हम क्यों भूल जाते है।
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो ?

उंगली पकड़कर चलना भी तुम हमें सीखाती हो,
पर तुम्हें सहारा देने हम कभी नहीं आते है।
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो ?

घूम घूम कर खाना हमें तुम ही खिलाती हो,
पर एक एक निवाले के लिए तुम स्वयं तरस जाती हो।
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो ?

हमारी हर जिद को पूरा तुम ही करती हो,
पर अपनी किसी भी जरूरत को तुम किसी से नहीं कह पाती हो।
हमारे हर गुस्से को तुम हर बार सह जाती हो,
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो?

हमारी हर खुशी को अपनी खुशी समझ जाती हो,
अपने गम तुम किसी को भी नहीं बताती हो।
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो ?

हमारी हर ख्वाहिशों को सर माथे लगाती हो,
तुम अपने सपने को छोड़  हमारे सारे सपने पूरे कराती हो।
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो ?

इतनी भोली क्यों होती हो तुम, की आसानी से  छल दी जाती हो।
भगवान की परछाई होने के बावजूद, तुम एक कोने में छोड़ दी जाती हो।
हे मां ! तुम इतनी भोली क्यों होती हो ?




लेखिका : कामना पांडेय
(कामना पांडेय, बलिया के वरिष्ठ पत्रकार श्रवण पांडेय की पुत्री है।)

 कक्षा- 12
Tags:

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया में भीषण सड़क हादसा : शादी समारोह से लौट रही सफारी पलटी, चार युवकों की दर्दनाक मौत बलिया में भीषण सड़क हादसा : शादी समारोह से लौट रही सफारी पलटी, चार युवकों की दर्दनाक मौत
बलिया : एनएच 31 पर स्थित फेफना थाना क्षेत्र के राजू ढाबा के आस पास हुए सड़क हादसे में चार...
एक बार फिर बदल गया 8वीं तक के स्कूल संचालन का समय
25 अप्रैल 2024 : जानिएं क्या कहते है आपके सितारे, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया में किसानों की जमीन पर बाढ़ विभाग की दखल, अन्नदाताओं ने JE के खिलाफ दी तहरीर
बलिया : बोलेरो की टक्कर से बाइक सवार शिक्षक की मौत, दो युवक घायल
बलिया : ड्यूटी पर तैनात सिपाही का बल्ब चुराते वीडियो वायरल !
जीवनसाथी की हत्या : बलिया में पत्नी ने उजाड़ दिया खुद का सुहाग