अजय सिंह हत्याकांड: पांच आरोपियों ने किया आत्मसमर्पण,दो पहुंच से दूर

अजय सिंह हत्याकांड: पांच आरोपियों ने किया आत्मसमर्पण,दो पहुंच से दूर




मनियर ,बलिया। थाना क्षेत्र के पिलूई निवासी व्यवसायी अजय सिंह हत्या काण्ड में पुलिस के बढते दबाव के कारण मुख्य आरोपी कन्हैया सहित पांच  आरोपियों ने अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। जबकि प्रधान प्रतिनिधि सहित दो आरोपी  अभी भी पुलिस की पहुंच से दूर हैं। इसकी पुष्टि थानाध्यक्ष मनियर चंद्रभान यादव ने की।पुलिस की लाख सुरक्षा देने के बाद भी ग्रामीण दहशत में हैं। जिसके चलते हत्या के पांचवें दिन बाद भी हत्याकांड स्थल खेजूरी  मोड़ पर दर्जनों दुकानदारों की दुकाने लगातार बन्द है। हालांकि पुलिस अपनी अपनी दुकानें खोलने की सुचना भी दुकानदारों को दे चुकी है।फिर दहशतगर्द दुकानदार अपनी दुकान खोलने से कतरा रहे हैं।
 गौरतलब हो कि विगत 18 जून को ट्रेक्टर से सफेदा की नर्सरी तोडने को लेकर उपजे विवाद में पिलूई निवासी व्यवसायी अजय सिंह की हत्या खेजूरी मोड़ स्थित बालू गिट्टी छड़ की दुकान पर एक समूह में शामिल होकर एक जाति विशेष के लोगों ने लाठी डण्डे से मारपीट हत्या कर दी जिससे गुस्साये ग्रामीणों ने खेजूरी तीन मुहानी पर जाम लगा कर आरोपियों कि गिरफ्तारी की मांग की  क्षेत्राधिकारी बांसडीह अशोक सिंह के कारवाई के अश्वासन पर जाम समाप्त हुआ है बताया जाता है कि हत्या के बाद दुकानदार अपनी अपनी दुकानें बंद कर दिये थे हत्या के दिन शाम तीन बजे अज्ञात कारणों लगी आग में दो दुकाने जल गयी थी। तभी से आज तक दुकानदारों की दुकाने लगातार बन्द है। मृतक के पुत्र स्वतंत्र सिंह की तहरीर पर नौ लोगों के विरूद्ध पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर।

 गिरफ्तार दो आरोपि किसुन राम व शिवजी राजभर को  जेल भेज दियाथा, जबकि शेष आरोपी कि गिरफ्तारी के लिए लगातार दबाव बना रही थी। वहीं परिजनों ने पुलिस द्वारा आरोपियों को बचाने का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक बलिया से लिखित शिकायत की थी। पुलिस के बढ़ते दबाव के कारण हत्या के मुख्य आरोपी कन्हैया सहित, केशव , प्रमोद, विजय व राजू ने कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया लेकिन प्रधान प्रतिनिधि विशाल पटेल सहित दो आरोपी अभी भी फरार है। वहीं खेजूरी मोड़ स्थित तीन मोहानी के पास लगभग  दर्जनों  दुकानदार दहशत के कारण पांचवें दिन भी अपनी अपनी दुकान बन्द कर इधर उधर भटक रहे। पुलिस दुकान खोलने के लिए सुचना दे रही है लेकिन अपने साथ अनहोनी होने के भय से भटक रहे हैं। इस सम्बन्ध में थानाध्यक्ष मनियर सुभाष चंद्र यादव ने बताया कि पुलिस के लगातार दबाव के कारण मुख्य आरोपी सहित पांच लोग कोर्ट में समर्पण कर चुके हैं, शेष बहुत जल्द गिरफ्त में होगें। दुकानदारों की दुकाने बन्द के बारे में बताया कि दुकानदार दहशत में हैं, उनको दुकान खोलने की सुचना दी जा रही है, लेकिन अभी आ नहीं रहे हैं। शान्ति व्यवस्था पटरी पर लाने के लिए लगातार कोशिश जारी है।

रिपोर्ट राम मिलन तिवारी

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

25 जून से खुलेंगे स्कूल, 28 जून से आयेंगे बच्चें, ऐसे होगा स्वागत ; बलिया बीएसए ने जारी की एडवाइजरी 25 जून से खुलेंगे स्कूल, 28 जून से आयेंगे बच्चें, ऐसे होगा स्वागत ; बलिया बीएसए ने जारी की एडवाइजरी
बलिया : ग्रीष्मकालीन छुट्टी 24 जून को समाप्त हो रही है, यानि 25 जून से परिषदीय स्कूल खुलेंगे। इसको लेकर...
बलिया पुलिस के हत्थे चढ़ा 11 वर्षीय बच्चे का हत्यारा
बलिया में करंट से युवक की मौत, बेटे के शव को सीने से लगाकर बिलखती रही मां
बलिया से चार इंस्पेक्टर और 27 दरोगा का तबादला
ब्यूटी पार्लर में सज रही दुल्हन की गोली मारकर हत्या
24 जून 2024 : कैसा रहेगा अपना आज, पढ़ें दैनिक राशिफल
स्पोर्ट्स स्टेडियम बलिया में कुछ यूं मना अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पिक दिवस