प्रदेश अध्यक्ष ने शिक्षामित्रों से इस विन्दु पर मांगा सुझाव

प्रदेश अध्यक्ष ने शिक्षामित्रों से इस विन्दु पर मांगा सुझाव


लखनऊ। उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के प्रदेश अध्यक्ष शिव कुमार शुक्ला ने शिक्षामित्रों के कल्यार्थ एक ऐसी निधि बनाने का सुझाव शिक्षामित्रों से मांगा है, जो उन्हीं के मानदेय से संचालित हो। 

संगठन के पदाधिकारियों व प्रदेश के शिक्षामित्रों का आभार व्यक्त करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आपने कोविड 19 महामारी से बचाव के लिए एक दिन का मानदेय देकर वर्तमान समय में देश को आर्थिक रूप से मजबूत करने का काम किया है। इसके लिए जितनी भी प्रशंसा की जाए, कम है। आपकी पहल पर विभाग के सभी छोटे-बड़े कर्मचारियों द्वारा भी इसका अनुसरण किया गया और विभाग द्वारा एक बड़ी राशि उत्तर प्रदेश सरकार को समर्पित की गई। 

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हमारे बीच से जो शिक्षामित्र भाई बहन नहीं रहे। उनका परिवार काफी संकट से जूझ रहा है। ऐसे में हम सभी शिक्षामित्र साथियों को एकजुटता का परिचय देना चाहिए। हम पहले सरकार से पहल करेंगे, परंतु उससे पहले आप सब मेरे साथ होंगे। हम चाहते है कि सभी शिक्षामित्र मिलकर यह पहल करें कि हमारा एक दिन का मानदेय वर्ष में शिक्षामित्रों के नाम काटकर एक 'सामूहिक कोष' का निर्धारण हो। इसमें हम संगठन के लोगों के साथ साथ राज्य स्तर पर डायरेक्टर पदेन और जिले पर जिला  बेसिक शिक्षा अधिकारी पदेन शामिल हो। 

हम अपने एक दिन के मानदेय राशि से अपने दिवंगत साथियों के परिवार की एक निश्चित धनराशि से मदद कर सकें, यही हम लोगों की ओर से सच्ची श्रद्धांजलि होगी। प्रदेश अध्यक्ष ने शिक्षामित्रों से कहा है कि यदि यह प्रस्ताव आप सबको अच्छा लगे तो इस पर विचार करके हमें सुझाव दीजिए। हम राज्य या जिले पर जो भी फंड बनाएंगे उसमें डायरेक्टर पदेन होंगे और जिले पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा नामित व्यक्ति होगा। इससे हम सब की पारदर्शिता और शुचिता भी बनी रहेगी और हमारे साथियों को तत्काल मदद मिलती रहेगी।


Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया से घर लौट रहे थे विशाल, रास्ते से झपट ले गई मौत बलिया से घर लौट रहे थे विशाल, रास्ते से झपट ले गई मौत
बलिया : एनएच-31 पर स्थित दुबहर थाना क्षेत्र अंतर्गत सनाथ पांडेय के छपरा गांव के सामने मंगलवार की देर रात...
बलिया बीएसए ने ऐसे स्कूलों के खिलाफ छेड़ा अभियान, 6 विद्यालयों पर लगा ताला ; बढ़ी औरों की बेचैनी
बलिया का चर्चित हत्याकांड : रोहित पांडेय के घर पहुंचे कैबिनेट मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह, बोले...
बलिया : रोडवेज बस और बाइक में सीधी टक्कर, एक ही गांव के तीन युवकों की मौत, दो घायल
बलिया में 10 सरकारी अस्पतालों का औचक निरीक्षण, 18 डॉक्टर 84 स्टॉफ मिले गैरहाजिर; डीएम ने लिया बड़ा एक्शन
श्रावण मास विशेष : क्यों की जाती है शिवलिंग की पूजा ?
24 जुलाई 2024 : कैसा रहेगा अपना आज, पढ़ें दैनिक राशिफल