अपहृत मासूम की तलाश में दर-दर की ठोकर खा रहा पिता, पुलिस कर रही टाल-मटोल

अपहृत मासूम की तलाश में दर-दर की ठोकर खा रहा पिता, पुलिस कर रही टाल-मटोल



बलिया। सुखपुरा थाना क्षेत्र के देवकली गांव में तीन सप्ताह पूर्व अपहृत हुई किशोरी को अपहृर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने को पुलिसिया कार्रवाई से आजिज अपहरणकर्ता परिजनों को अब धमकी देने लगे है। जिससे किशोरी के घरवाले न सिर्फ परेशान है बल्कि किसी अनहोनी की, आशंका को लेकर चिंतित भी नजर आने लगे हैं।
 इस संबंध में बालिका के पिता ने आगे बताया कि पुलिस अधीक्षक को तहरीर देकर बालिका को तत्काल ढूंढने में और आरोपियों को गिरफ्तार किए जाने की मांग को लेकर दी थी। जिस पर पीआरओ द्वारा थाना प्रभारी को तत्काल बालिका रिकवरी के आदेश दिए गए थे। जिसके परिपेक्ष्य में चौकी प्रभारी  द्वारा बीते 15 जून को बालिका के बरामद होने की अफवाह फैला दी गई। इस संबंध में परिजनों का आरोप है कि अपहर्ताओं को बचाने में और उन्हें संरक्षण देने में सुखपुरा पुलिस और चौकी प्रभारी हनुमानगंज कि सीधे भूमिका स्पष्ट हो रही है। पुनः अपहरण की गई बालिका के पिता ने पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाने कार्यालय पहुंचे तो उन्हें पुलिस अधीक्षक से मिलने नहीं दिया गया। इस संबंध में परिजनों का आरोप है कि पुलिस अधीक्षक से मिलने को लेकर दोनों प्रभारी खार खाए हुए हैं और आए दिन उल्टी-सीधी बातें कर रहे हैं। घटना के संबंध में पीड़ित पिता ने बताया  कि गत 21 मई को रात करीब 8:00 बजे अपने मां के साथ उक्त बालिका शौच करने गई थी। उसी समय कुछ लड़के मोटरसाइकिल से आए और उनकी बालिका का अपहरण कर भाग गए। उसके बाद 100 नंबर पर फोन करके घटना की जानकारी पुलिस को दी। लड़की के मोबाइल को चेक किया गया तो उस पर जिस से बात हुई थी। इस मोबाइल के आधार पर उक्त गांव के लल्लू पांडे पुत्र रामबाबू पांडे  का नंबर निकला। जिसके आधार पर उस लड़के को पकड़ लिया गया, जिसे उठाकर सुखपुरा पुलिस अपने थाने ले आई। उसके बाद से पीड़ित पिता थाने, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, पुलिस चौकी हनुमानगढ़ का लगातार चक्कर लगा रहा है, लेकिन आज तक अपहृत बालिका का ना तो पता चल सका और ना हीआरोपियों की गिरफ्तारी हो सकी।

By - Mushir Zaidi

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News