लॉक डाउन में पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन की अनूठी पहल

लॉक डाउन में पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन की अनूठी पहल


गोरखपुर। कोविड-19 से रोकथाम में डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी एवं सफाईकर्मियों की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। ऐसे में उनके सुरक्षा के लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध है। इसी क्रम में मार्केट में पीपीई किट की कमी को देखते हुए, पूर्वोत्तर रेलवे के यांत्रिक कारखाना, गोरखपुर में एवं इज़्ज़तनगर यांत्रिक कारखाने में पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट) का उत्पादन प्रारंभ कर दिया है। 


इसे भी पढ़ें : पूर्वोत्तर रेलवे ने सीनियर सेक्शन इंजीनियर को दिया यह गिफ्ट

यांत्रिक कारखाना के ट्रिमिंग शॉप में बनाए जा रहे  पीपीई ललित नारायण मिश्र रेलवे चिकित्सालय, गोरखपुर तथा अन्य रेलवे चिकित्सालय में भेजें जायेंगे। चिकित्सा कर्मी इन पी पी ई  का उपयोग कोरोना से बचाव एवं उपचार के लिए करेंगे ।अभी तक कुल 250 पी पी ई बनाए गए हैं। हर दिन लगभग 80 पी पी ई का उत्पादन किया जा रहा है। 

कोरोना से बचाव एवं उपचार के लिए आइसोलेशन/कोरंटाइन वार्ड में 200 बेड का प्रावधान किया गया है। गोरखपुर कारखाना में निर्मित 18000 फेस मास्क, 100 फेस शील्ड एवं 70 गाऊन ललित नारायण मिश्र रेलवे चिकित्सालय को उपलब्ध कराये जा चुके हैं।

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

थिएटर्स में धमाल मचा रही 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया', कमाई 100 करोड़ पार  थिएटर्स में धमाल मचा रही 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया', कमाई 100 करोड़ पार 
एंटरटेनमेंट डेस्क : 9 फरवरी को रिलीज हुई शाहिद कपूर और कृति सेनन की फिल्म 'तेरी बातों में ऐसा उलझा...
सब इंस्पेक्टर के खिलाफ एसपी का बड़ा एक्शन
Ballia Road Accident : तिलक समारोह से लौट रही जीप में पिकअप ने मारी टक्कर, अब तक 6 की मौत, चार रेफर
बलिया : पॉक्सो एक्ट में दोषी अभियुक्त को जुर्माना संग 10 वर्ष सश्रम कारावास की सजा
शिक्षिका से छेड़छानी, सहायक अध्यापक सस्पेंड 
27 फरवरी का राशिफल : इन राशि वालों की आय मे हो सकती है वृद्धि
बलिया लोकसभा चुनाव संचालन समिति की कामकाजी बैठक में इन विन्दुओं पर चर्चा