दर्दनाक Road Accident : मां की मौत, बेटी का जन्म ; कांपा लोगों का कलेजा

दर्दनाक Road Accident : मां की मौत, बेटी का जन्म ; कांपा लोगों का कलेजा

फिरोजाबाद। मां के गर्भ में 9वां महीना पूरा कर रही नवजात ने आंखें खोली, उसी वक्त उसकी मां की आंखें हमेशा के लिए मुंद गयी। मां खून से सनी हुई पड़ी थी, जबकि नवजात किलकारियां भरने लगी। नारखी थाना क्षेत्र में हुई इस दर्दनाक घटना को देख लोगों का कलेजा कांप गया।

आगरा के मलपुरा थाना क्षेत्र के चमोली निवासी राजू की पत्नी कामिनी (26) करीब आठ महीने की गर्भवती थी। रामू उसे लेकर बाइक से फिरोजाबाद के कोटला फरिहा स्थित उसके मायके जा रहा था। नारखी थाना क्षेत्र के गांव बरतरा के पास गलत दिशा से आ रही बाइक को बचाने के चक्कर में रामू की बाइक अनियंत्रित हो गई, जिससे पीछे बैठी कामिनी गिर गई। इसी दौरान पीछे से आ रहे बालू लदे डंपर ने कामिनी को कुचल दिया। घटना में कामिनी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके गर्भ से शिशु सही सलामत बाहर आ गया। घटना इतनी भयावह थी कि जिसने भी देखा उसका कलेजा कांप गया। पुलिस ने नवजात शिशु को अस्पताल तथा मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवा दिया।हादसे के बाद कामिनी की ससुराल और मायके में कोहराम मच गया है। उसके पति का रो-रोकर बुरा हाल है। 

Tags: Firojabad

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया को मिली एक और ट्रेन, देखिएं छपरा-उधना-छपरा अनारक्षित विशेष ट्रेन की समय-सारिणी बलिया को मिली एक और ट्रेन, देखिएं छपरा-उधना-छपरा अनारक्षित विशेष ट्रेन की समय-सारिणी
वाराणसी : रेलवे प्रशासन द्वारा यात्री जनता की सुविधा हेतु 09103/09104 उधना-छपरा-उधना अनारक्षित ग्रीष्मकालीन विशेष गाड़ी का संचलन उधना से...
बलिया में रोजगार को लेकर बड़ा अवसर आया सामने, उम्र 18 से 50 वर्ष ; ऐसे करे आवेदन
बलिया में तीन दिवसीय चित्रकला प्रदर्शनी का शुभारंभ, काफी खुश है बच्चे
अभ्युदय कोचिंग बनाएगा होनहारों का भविष्य : बलिया में प्रवेश के लिए आवेदन शुरू, जानिएं किस-किस एग्जाम की मिलती है फ्री कोचिंग
बलिया में रेलकर्मी को दौड़ा-दौड़ा कर पीटने वाले दोनों जीआरपी सिपाहियों पर हुई बड़ी कार्रवाई
बलिया : ट्रेन से कटकर अधेड़ की मौत, शिनाख्त में करे जीआरपी की मदद
सहायक अध्यापिका बनते ही पति को ठुकराया, बीएसए ने किया सस्पेंड