बलिया : जिन्दगी की जंग हार गई शिक्षिका, संवेदना की थैली लेकर पहुंचा प्राशिसं

बलिया : जिन्दगी की जंग हार गई शिक्षिका, संवेदना की थैली लेकर पहुंचा प्राशिसं


बलिया। शिक्षा क्षेत्र रसड़ा के प्राथमिक विद्यालय नवापुरा पर तैनात प्रधानाध्यापिका गायत्री देवी का निधन शुक्रवार को हो गया। वह कुछ दिनों से अस्वस्थ थी, जिनका निधन उपचार के दौरान वाराणसी में हो गया। इसकी सूचना मिलते ही शोक की लहर दौड़ गयी।


प्रधानाध्यापिका गायत्री देवी के निधन की जानकारी होते ही प्राथमिक शिक्षक संघ रसड़ा के अध्यक्ष तेज प्रताप सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों का एक प्रतिनिधि मंडल उनके पैतृक आवास पहुंचकर उनके पति विजय बहादुर सिंह को 'शिक्षक आपदा राहत कोष' से रुपया एक लाख रुपये का अहेतुक सहयोग सौंपा। अध्यक्ष तेज प्रताप सिंह ने कहा कि रसड़ा के शिक्षकों द्वारा गठित 'शिक्षक आपदा राहत कोष' काफी हितकारी साबित हो रहा है।

इसे भी पढ़ें : बलिया : प्राशिसं रसड़ा प्रदेश का इकलौता संघ, जो शिक्षामित्र के निधन पर करता है यह काम

उन्होंने शिक्षिका के असामयिक निधन पर सभी शिक्षकों की ओर से शोक संवेदना व्यक्त की। इस मौके पर प्रधान ओमप्रकाश सिंह, नमो नारायण सिंह, भृगुनाथ सिंह, सुरेश चौहान, राजेश कुमार सिंह, संजय यादव, रणविजय सिंह, मुकेश सिंह, कोषाध्यक्ष उदय नारायण राम इत्यादि उपस्थित रहे। इस दौरान सोशल डिस्टेस्टिंग का संपूर्ण ध्यान रखा गया।

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया में करंट से महिला की मौत बलिया में करंट से महिला की मौत
मझौवां, बलिया: बैरिया थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत जगदेवा अंतर्गत मिश्र गिरी की मठिया निवासी हीरामुनी देवी (45) पत्नी हीरालाल...
बलिया का रोहित पांडेय हत्याकांड : सीएम योगी ने लिया संज्ञान
रामायण प्रसाद सिंह बनें बलिया कोतवाली के निरीक्षक अपराध
बलिया : निरीक्षण में बंद मिले आठ स्कूल, बीएसए की कार्रवाई से मचा हड़कम्प
शिक्षिका के साहस के आगे बदमाशों के हौसले पस्त
22 जुलाई 2024 : क्या कहते हैं आपके सितारे, पढ़ें दैनिक राशिफल
रोहित पांडेय हत्याकांड में बलिया पुलिस का बड़ा एक्शन, एसपी ने किया यह ऐलान