बलिया : जिन्दगी की जंग हार गई शिक्षिका, संवेदना की थैली लेकर पहुंचा प्राशिसं

बलिया : जिन्दगी की जंग हार गई शिक्षिका, संवेदना की थैली लेकर पहुंचा प्राशिसं


बलिया। शिक्षा क्षेत्र रसड़ा के प्राथमिक विद्यालय नवापुरा पर तैनात प्रधानाध्यापिका गायत्री देवी का निधन शुक्रवार को हो गया। वह कुछ दिनों से अस्वस्थ थी, जिनका निधन उपचार के दौरान वाराणसी में हो गया। इसकी सूचना मिलते ही शोक की लहर दौड़ गयी।


प्रधानाध्यापिका गायत्री देवी के निधन की जानकारी होते ही प्राथमिक शिक्षक संघ रसड़ा के अध्यक्ष तेज प्रताप सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों का एक प्रतिनिधि मंडल उनके पैतृक आवास पहुंचकर उनके पति विजय बहादुर सिंह को 'शिक्षक आपदा राहत कोष' से रुपया एक लाख रुपये का अहेतुक सहयोग सौंपा। अध्यक्ष तेज प्रताप सिंह ने कहा कि रसड़ा के शिक्षकों द्वारा गठित 'शिक्षक आपदा राहत कोष' काफी हितकारी साबित हो रहा है।

इसे भी पढ़ें : बलिया : प्राशिसं रसड़ा प्रदेश का इकलौता संघ, जो शिक्षामित्र के निधन पर करता है यह काम

उन्होंने शिक्षिका के असामयिक निधन पर सभी शिक्षकों की ओर से शोक संवेदना व्यक्त की। इस मौके पर प्रधान ओमप्रकाश सिंह, नमो नारायण सिंह, भृगुनाथ सिंह, सुरेश चौहान, राजेश कुमार सिंह, संजय यादव, रणविजय सिंह, मुकेश सिंह, कोषाध्यक्ष उदय नारायण राम इत्यादि उपस्थित रहे। इस दौरान सोशल डिस्टेस्टिंग का संपूर्ण ध्यान रखा गया।

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया के शिक्षामित्रों की हुंकार, कमेटी की रिपोर्ट लागू करें सरकार : पंकज  बलिया के शिक्षामित्रों की हुंकार, कमेटी की रिपोर्ट लागू करें सरकार : पंकज 
बलिया : सात वर्षों पहले आज ही के दिन सुप्रीम कोर्ट ने शिक्षामित्रों का समायोजन रद्द किया था। कथित रूप...
बलिया में ADG और DIG का छापा : अवैध वसूली का भंडाफोड़, नरही थानाध्यक्ष के साथ कोरंटाडीह पुलिस चौकी सस्पेंड ; दो पुलिसकर्मियों समेत 18 गिरफ्तार
बलिया के चर्चित चौराहा पर एडीजी का छापा, हिरासत में लिए गये तीन पुलिसकर्मियों समेत कई लोग
बलिया में पेड़ से टकराई बाइक, दो युवकों की दर्दनाक  मौत ; मचा कोहराम
25 जुलाई 2024 : अपने लिए कैसा रहेगा गुरुवार, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया से घर लौट रहे थे विशाल, रास्ते से झपट ले गई मौत
बलिया बीएसए ने ऐसे स्कूलों के खिलाफ छेड़ा अभियान, 6 विद्यालयों पर लगा ताला ; बढ़ी औरों की बेचैनी