भारत के जीवन पद्धति को बहुत प्रभावित नहीं करेगा कोरोना : सांसद

भारत के जीवन पद्धति को बहुत प्रभावित नहीं करेगा कोरोना : सांसद


बैरिया, बलिया। राष्ट्रीय किसान मोर्चा के अध्यक्ष व भाजपा सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज इस देश की अर्थ व्यवस्था के लिए संजीवनी प्रमाणित होगा। देशहित में यह ऐतिहासिक व अभूतपूर्व कदम. है।

सोनबरसा स्थिति अपने संसदीय कार्यालय पर पत्रकारों से बातचीत में सांसद ने कहा कि जिस समय इंदिरा गांधी ने बैंकों व उद्योगों का राष्ट्रीयकरण किया था, वह सही नहीं था। उस समय दत्तोपंत ठेंगड़ी ने सुझाव दिया था कि उद्योगों का मजदूरीकरण, मजदूरों का राष्ट्रीयकरण व राष्ट्र का औद्योगिकरण होना चाहिए था, किंतु उस समय उनकी बातों को अनसुना कर दिया गया। अगर वैसा किया गया होता तो आज कोरोना संक्रमण के कारण जो मजदूरों का पलायन हो रहा है, वह नहीं होता। मजदूर उद्योगों में अपनी भागीदारी के कारण कोई भी जोखिम उठाने को तैयार रहते, पलायन नहीं करते।

वीरेंद्र सिंह मस्त ने जोर देकर कहा कि कोरोना महामारी ने भौतिकवादी परंपरा पर प्रहार किया है। भारत के जीवन पद्धति को बहुत अधिक प्रभावित नहीं करेगा, न ही इसका बहुत ज्यादा प्रतिकूल असर ही हमारे अर्थ व्यवस्था पर पड़ेगा, क्योंकि हमारे देश की अर्थ व्यवस्था कृषि पर आधारित है। कृषि स्वदेशी के अ​धारण को मजबूत करती है। बसुधैव कुटुंकम की भावना को मजबूत करती है।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया से घर लौट रहे थे विशाल, रास्ते से झपट ले गई मौत बलिया से घर लौट रहे थे विशाल, रास्ते से झपट ले गई मौत
बलिया : एनएच-31 पर स्थित दुबहर थाना क्षेत्र अंतर्गत सनाथ पांडेय के छपरा गांव के सामने मंगलवार की देर रात...
बलिया बीएसए ने ऐसे स्कूलों के खिलाफ छेड़ा अभियान, 6 विद्यालयों पर लगा ताला ; बढ़ी औरों की बेचैनी
बलिया का चर्चित हत्याकांड : रोहित पांडेय के घर पहुंचे कैबिनेट मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह, बोले...
बलिया : रोडवेज बस और बाइक में सीधी टक्कर, एक ही गांव के तीन युवकों की मौत, दो घायल
बलिया में 10 सरकारी अस्पतालों का औचक निरीक्षण, 18 डॉक्टर 84 स्टॉफ मिले गैरहाजिर; डीएम ने लिया बड़ा एक्शन
श्रावण मास विशेष : क्यों की जाती है शिवलिंग की पूजा ?
24 जुलाई 2024 : कैसा रहेगा अपना आज, पढ़ें दैनिक राशिफल