बलिया : जिन्दगी की जंग हार गई एक महिला शिक्षामित्र, शोक की लहर

बलिया : जिन्दगी की जंग हार गई एक महिला शिक्षामित्र, शोक की लहर


बलिया। उत्तर प्रदेश में शिक्षामित्रों की मौत का सिलसिला कब थमेगा, कहना मुश्किल है। आये दिन किसी न किसी जनपद से शिक्षामित्रों की मौत की खबरें आती ही रहती है। ताजा घटना बलिया जनपद के नगरा थाना क्षेत्र का है। 

नगरा थाना क्षेत्र के सिहोरीडीह (विश्वरूप) निवासी सबिता देवी पत्नी सत्येंद्र कुमार गांव के ही प्राथमिक विद्यालय पर शिक्षामित्र के रुप में कार्यरत थीं। समायोजन रद्द होने के बाद भविष्य को लेकर हमेशा चिंतित रहने वाली सबिता गुरुवार को जिंदगी की जंग हार गयी। इसकी जानकारी होते ही शिक्षा जगत में शोक की लहर दौड़ गयी। इनके निधन पर उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र के जिला प्रभारी पंकज सिंह, अमृत सिंह, चंद्रभानु सिंह, शशिभान सिंह, सत्येन्द्र मौर्या, मनजीत सिंह, अजय श्रीवास्तव, संजीव सिंह, रणबीर सिंह, गुलाबचंद, ब्रजेश यादव, राकेश पाण्डेय, ललन यादव, राजू, अरविन्द कुमार, हरिश शुक्ला, सचिन यादव, मनोज सिंह इत्यादि ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए गतात्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया को मिली एक और ट्रेन, देखिएं छपरा-उधना-छपरा अनारक्षित विशेष ट्रेन की समय-सारिणी बलिया को मिली एक और ट्रेन, देखिएं छपरा-उधना-छपरा अनारक्षित विशेष ट्रेन की समय-सारिणी
वाराणसी : रेलवे प्रशासन द्वारा यात्री जनता की सुविधा हेतु 09103/09104 उधना-छपरा-उधना अनारक्षित ग्रीष्मकालीन विशेष गाड़ी का संचलन उधना से...
बलिया में रोजगार को लेकर बड़ा अवसर आया सामने, उम्र 18 से 50 वर्ष ; ऐसे करे आवेदन
बलिया में तीन दिवसीय चित्रकला प्रदर्शनी का शुभारंभ, काफी खुश है बच्चे
अभ्युदय कोचिंग बनाएगा होनहारों का भविष्य : बलिया में प्रवेश के लिए आवेदन शुरू, जानिएं किस-किस एग्जाम की मिलती है फ्री कोचिंग
बलिया में रेलकर्मी को दौड़ा-दौड़ा कर पीटने वाले दोनों जीआरपी सिपाहियों पर हुई बड़ी कार्रवाई
बलिया : ट्रेन से कटकर अधेड़ की मौत, शिनाख्त में करे जीआरपी की मदद
सहायक अध्यापिका बनते ही पति को ठुकराया, बीएसए ने किया सस्पेंड