वीरेंद्र सिंह मस्त को कैबिनेट मंत्री बनाने की उठी मांग

वीरेंद्र सिंह मस्त को कैबिनेट मंत्री बनाने की उठी मांग

दुबहड़।  बलिया सहित पूर्वांचल के उचित विकास के लिए भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बलिया के नवनियुक्त सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त को केन्द्रीय कैबिनेट में उचित स्थान देने की मांग विभिन्न जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक संस्थाओं द्वारा की गई है। मंगल पांडेय विचार मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णकांत पाठक, प्रधान मंडल संघ के अध्यक्ष विमल पाठक, दुबहड़ के प्रधान प्रतिनिधि एवं समाजसेवी बिट्टू मिश्रा ने कहा कि भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में देश का प्रतिनिधित्व करने वाले बलिया जनपद को आज तक केंद्रीय मंत्रिमंडल में उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिला। जिसके कारण आज भी बलिया जनपद सहित पूर्वांचल के विभिन्न जिले कई मामलों में सर्वाधिक पिछड़े हुए हैं। जिसके कारण यहां की जनता अपने आप को उपेक्षित महसूस करती हैं। बलिया में किसी भी प्रकार के उद्योग धंधे एवं रोजगार के साधन नहीं होने के कारण यहां के युवाओं को प्राइवेट नौकरी आदि के लिए दूसरे प्रदेशों में जाना पड़ता है। जहां इनका शोषण किया जाता है। बलिया एवं भारतीय जनता पार्टी के लिए यह सौभाग्य की बात है कि भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह मस्त बलिया के सांसद नियुक्त हुए हैं। जिन्हें कृषि सहित अन्य क्षेत्रों एवं संसद का भी काफी अनुभव प्राप्त है। मस्त को केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान प्राप्त होने पर बलिया सहित पूर्वांचल का काफी विकास हो सकता है।

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

4 मार्च का राशिफल : जानिएं क्या कहते है आपके सितारें 4 मार्च का राशिफल : जानिएं क्या कहते है आपके सितारें
मेष आज का दिन आपके लिए अचानक लाभ दिलाने वाला रहेगा। शारीरिक समस्याओं को आप अनदेखा ना करें और आप...
बलिया पहुंचे मंत्री एके शर्मा ने किया कई विकास कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास, बोले- ताजा हो गई बचपन की यादें
बलिया के लाल को मिला श्याम सुन्दर दास पुरस्कार, मुस्कुराया साहित्य जगत 
बलिया : बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी से कतरा रहे शिक्षकों के लिए बुरी खबर, बीएसए ने जारी किया यह निर्देश
बलिया में चोरी की बाइक पर फर्राटा भर रहा था युवक, पड़ी पुलिस की नजर
बलिया में दबंगई का शिकार हुआ युवक, मौत की सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस
बलिया : परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह की पहल पर 5000 से अधिक श्रद्धालु अयोध्या रवाना