प्रधानमंत्री आवास घोटाला: सीडीओ ने जारी किया स्पष्टीकरण

प्रधानमंत्री आवास घोटाला: सीडीओ ने जारी किया स्पष्टीकरण



बलिया। मुख्य विकास अधिकारी ने यह स्पष्ट किया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना में पारदर्शिता का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। इसके लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत के सार्वजनिक स्थल पर विकासखंड स्तर से पात्रों की सूची की वाल राइटिंग कराई गई है। उस स्थान पर जनपद स्तरीय अधिकारी के मोबाइल नंबर भी अंकित करने के लिए खंड विकास अधिकारियों को निर्देश दिया गया है, ताकि शिकायत मिलने पर तत्काल निस्तारण किया जा सके।

उन्होंने बताया है कि रसड़ा विकासखंड के ग्राम पंचायत अठिला में शिकायत मिलने पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी से जांच कराई गई शिकायत सही मिलने पर स्वीकृत आवासों की जांच के लिए परियोजना निदेशक स्तर से नवंबर, 2018 में विकासखंड स्तर पर तीन स्तरीय समिति गठित कर आवासों की सत्यापन एवं जांच के निर्देश बीडीओ रसड़ा को दिए गए। लेकिन बीडीओ स्तर से जांच आख्या प्राप्त नहीं होने पर विभागीय बैठकों में निर्देशित करने के साथ समय समय पर रिमाइंडर भी दिया जाता रहा। तब जाकर 18 मार्च 2019 को समिति ने अपनी जांच आख्या डीआरडीए कार्यालय को उपलब्ध कराई। उसमें यह सामने आया कि अठिला में योजनांतर्गत स्वीकृत आवासों में से 14 आवास की धनराशि खाता संख्या बदलकर अन्य अनाधिकृत परिवारों को दे दी गई है तथा 16 परिवारों द्वारा धनराशि प्राप्त कर आवास निर्माण नहीं कराया गया है। बिचौलियों के रूप में तीन व्यक्तियों का नाम भी सामने आया। इस पर इसी 8 अप्रैल को दोषियों के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई के लिए वीडियो रसड़ा को निर्देशित किया गया। इस प्रकार प्रकरण में जनपद स्तर से शासकीय धनराशि की वसूली एवं दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही में कोई शिथिलता नहीं बरती गई है।


By-Ajit Ojha

Post Comments

Comments

Latest News

फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की बहन समेत दर्जनों लोग बीमार फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की बहन समेत दर्जनों लोग बीमार
UP News : संभल जिले में जुनाबई थाना क्षेत्र के अजीजपुर गांव में बारात में फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की...
वीडियो कॉल पर 200 रुपये में 5 मिनट गंदी बातें, पकड़ी गईं 6 'ड्रीमगर्ल्‍स'
करके सीखों कार्यक्रम : जूस बनाने से लेकर बच्चों को मिलेगी पंक्चर और पकौड़ा बनाने की ट्रेनिंग
डोनाल्ड ट्रंप की रैली में फायरिंग : जानलेवा हमले में बाल-बाल बचे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, मारा गया शूटर
शिक्षकों की ऑनलाइन हाजिरी पर यूपी के पूर्व बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविन्द चौधरी ने सरकार को दी नसीहत
कार्यकर्ताओं का मान सम्मान सर्वोपरि : केतकी सिंह
बलिया में आकाशीय बिजली झुलसी एक ही परिवार की तीन महिलाएं