शामंती व्यवस्था के खिलाफ आंदोलन है गोंगपा

शामंती व्यवस्था के खिलाफ आंदोलन है गोंगपा


बलिया। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी शाखा बलिया के कार्यालय बनरही में कार्यकर्ता की बैठक हुई, जिसको सम्बोधित करते हुए लोक सभा क्षेत्र 72, बलिया से पार्टी के प्रत्याशी गोपाल राम खरवार ने कहा कि गोंडवाना गणतंत्र पार्टी सामाज्यवादी, पुजीवादी, शामंती व्यवस्था के खिलाफ एक आंदोलन है। पार्टी का मुख्य उद्देश्य देश मंे भारतीय संविधान की मूल भावना को स्थापित करना है। पार्टी देश में समता मूलक समाज आर्थिक गणतंत्र की स्थापना करना चाहती है। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के आदर्श हमारे देश के वे सभी स्वतंत्रता सेनानी है। जिन्होंने देश की आजादी के लिए बलिदान हो गये। उन सभी श्र(ेय अमर शहीदों का सपना भी आजादी के साथ-साथ देश में व्याप्त सामाज्यवादी पूजीवादी शामंती व्यवस्था के समाप्त कर देश में समता मूलक समाज व आर्थिक गणतंत्र की सर्वोच्च व्यवस्था को स्थापित करना था। यही नहीं बलिया के इस ऐतिहासिक धरती के नायक महामानव जय प्रकाश नारायण जी का भी सपना व्यवस्था परिवर्तन का ही सपना था। राष्ट्रीय बिन्दुओं पर यदि चर्चा न भी करें तो बलिया जो अपना लोक निर्वाचन क्षेत्र है।


इसके संबंध में हम कहना चाहते है कि बलिया एक क्रांतिकारी ऐतिहासिक धरती है। जिसने स्वतंत्रता आंदोलन में अपना ऐतिहासिक नाम रोशन किया। स्वतंत्रता के बाद अनेक नेताओं को पैदा किया जिसने देश प्रदेश की विभिन्न मंत्रालयों में मंत्री पद को तथा प्रधानमंत्री की कुर्सी को भी सुशोभित किया किन्तु आज भी बलिया एक पिछड़ा हुआ जनपद है। हमारे शिक्षित नौजवान दूसरे जनपद या दूसरे प्रदेशों में रोजी रोटी के लिए भटक रहे है। जनपद में अनेक ट्रस्ट बने किन्तु उद्योग धंधों के लिए नौजवानों की बेरोजगारी दूर करने के लिए कोई प्रयास नहीं हुआ है। हमारा मानना है कि बेरोजगारी दूर किये बिना अच्छे दिन लाने की बात करना एक धोखा ही नहीं विश्वासघात करना है। हम रोजगार के सवाल पर सेवा की भावना से खड़े है। हमारे पार्टी का नारा भी है जय सेवा, यदि बलिया की महान जनता ने मुझे सेवा का अवसर प्रदान किया तो हम अपने इस महान निर्वाचन क्षेत्र 72, बलिया के शिक्षित, बेरोजगार, मजदूर, नौजवान के रोजगार की गारंटी के लिए काम करेंगें। हमारा यही संकल्प है जय सेवा बैठक में सुमेर गोंड, परशुराम खरवार, राम सेवक खरवार, विहारी गोंड, शिवशंकर खरवार, मनोज गोंड, रामचन्द्र गोंड, सुशील गोंड, सुदेश गोंड, सुरेश गोंड, प्रभुनाथ खरवार, शंकर गोंड, विशेश्वर, अमरनाथ गोंड, संतोष गोंड, शिवजी गोंड, वासुदेव खरवार, हरेन्द्र खरवार, अमरनाथ खरवार, राजकुमार खरवार आदि उपस्थित रहे। अध्यक्षता डॉ0 सुचित गोंड तथा संचालन परशुराम खरवार ने किया।

By-Ajit Ojha

Post Comments

Comments

Latest News

महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें
Mahashivratri 2024 : भारतवर्ष में देवाधिदेव आशुतोष भगवान शिव की पूजा सबसे अधिक की जाती है। वैसे तो भगवान शिव...
4 मार्च का राशिफल : जानिएं क्या कहते है आपके सितारें
बलिया पहुंचे मंत्री एके शर्मा ने किया कई विकास कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास, बोले- ताजा हो गई बचपन की यादें
बलिया के लाल को मिला श्याम सुन्दर दास पुरस्कार, मुस्कुराया साहित्य जगत 
बलिया : बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी से कतरा रहे शिक्षकों के लिए बुरी खबर, बीएसए ने जारी किया यह निर्देश
बलिया में चोरी की बाइक पर फर्राटा भर रहा था युवक, पड़ी पुलिस की नजर
बलिया में दबंगई का शिकार हुआ युवक, मौत की सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस