हिस्ट्रीशीटर मोनू पहाड़ी की मौत के बाद डीआईजी ने किया जेल का निरीक्षण, 30 बंदियों पर मुकदमा

हिस्ट्रीशीटर मोनू पहाड़ी की मौत के बाद डीआईजी ने किया जेल का निरीक्षण, 30 बंदियों पर मुकदमा



लखनऊ। बुधवार की देर शाम जिला जेल में वर्चस्व को लेकर मारपीट में कानपुर के हिस्ट्रीशीटर अपराधी मोनू पहाड़ी की मौत और करीब सात बंदियों के घायल होने के बाद तनावपूर्ण माहौल बना है। वहीं घटना के बाद गुरुवार को डीआइजी जेल ने जिला कारागार का निरीक्षण करके जरूरी दिशा निर्देश दिए।डीआइजी ने अराजकता फैलाने वाले बंदियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही है, वहीं पुलिस ने घटना पर तीस बंदियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। जि
कारागार में बुधवार की रात बंदियों की गिनती के बाद बैरक में जाते समय कानपुर के हिस्ट्रीशीटर मोनू पहाड़ी और आगरा के कुख्या अपराधी मुन्ना खालिद के बीच वर्चस्व को लेकर मारपीट हो गई थी। बीच बचाव में डिप्टी जेलर समेत बंदी रक्षक जख्मी हुए थे, वहीं छह सात बंदी भी घायल हो गए थे। जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मोनू पहाड़ी ने दम तोड़ दिया और बाकी घायल बंदियों का इलाज किया जा रहा है। घायल डिप्टी जेलर जगदीश प्रसाद व जेल के लंबरदार छुन्ना को सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती कराया गया है।
जिलाधिकारी जेबी सिंह व एसएसपी आकाश तोमर ने गुरुवार की सुबह जेल का निरीक्षण किया और हालात को काबू में बताया। वहीं दोपहर बाद पहुंचे डीआइजी जेल बीपी त्रिपाठी ने जिला कारागार का निरीक्षण किया और घटना की पूरी पड़ताल की। उन्हो ने घटना में शामिल रहे दोषी बंदियों पर सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि घटना की जांच चल रही है, इसके बाद ही सही स्थिति सामने आएगी। डीएम में मामले की मजिस्ट्रेटी जांच अपर जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश श्रीवास्तव को सौंपकर 15 दिन में रिपोर्ट मांगी है। जिला जेल में हुए बवाल के बाद सिविल लाइन थाने में 30 बंदियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। यह मामला मोनू पहाड़ी, मुन्ना खालिद, ताजुद्दीन, अंकित फौजी, दिलीप दुवेश, शिवमणि, शंकर सहित 30 बंदियों के खिलाफ धारा 147, 323, 353, 308, 332, 34 व 7 क्रिमिनल एक्ट में दर्ज किया गया है। यह मामला जेलर रामकुवेर सिंह द्वारा दर्ज कराया गया है।
Tags:

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें
Mahashivratri 2024 : भारतवर्ष में देवाधिदेव आशुतोष भगवान शिव की पूजा सबसे अधिक की जाती है। वैसे तो भगवान शिव...
4 मार्च का राशिफल : जानिएं क्या कहते है आपके सितारें
बलिया पहुंचे मंत्री एके शर्मा ने किया कई विकास कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास, बोले- ताजा हो गई बचपन की यादें
बलिया के लाल को मिला श्याम सुन्दर दास पुरस्कार, मुस्कुराया साहित्य जगत 
बलिया : बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी से कतरा रहे शिक्षकों के लिए बुरी खबर, बीएसए ने जारी किया यह निर्देश
बलिया में चोरी की बाइक पर फर्राटा भर रहा था युवक, पड़ी पुलिस की नजर
बलिया में दबंगई का शिकार हुआ युवक, मौत की सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस