खेत में उतरा करंट, भैंस संग किसान की मौत

खेत में उतरा करंट, भैंस संग किसान की मौत



चिलकहर(बलिया)। शनिवार की सुबह 7 बजे स्थानीय बाजार सटे सिवान में पानी लगे खेत में गयी भैंस को निकालने गये किसान बब्बन यादव निवासी कुआंरी देई उम्र 55 वर्ष की दर्दनाक मौत करेंट की जद में आने से हो गयी तो भैंस भी मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटना को लेकर गांव में कोहराम मच गया है ।   

 ताखा कुआंरी देई संपर्क मार्ग के बगल में खेतों में पानी लगा हुआ था कि खेत में भैंस चली गयी। जिसको निकालने के लिये बब्बन यादव भी खेत में उतर गया। इसी दौरान खेत के उपर से गुजर रहा करेंट प्रवाहित विद्युत तार 440 बोल्ट का खेत में टुटकर गिर गया। खेत में पानी लगा होने के चलते करेंट खेत में फैल गया व मौके पर ही भैंस व बब्बन यादव की दर्दनाक मौत हो गयी एक तरफ  भैंस तो दुसरी तरफ किसान का शव देखकर हर कोई गमगीन था तो परिजन दहाड़े मारकर रो रहे थे तो लोग विधाता को भी कोसते नजर आ रहे थे कि जो इंसान परिजनो संग दरवाजे पर बैठकर बातें कर रहा था कालकवलित हो जायेगा घटना की जानकारी मिलते ही पुर्व मंत्री सनातन पान्डेय भी पहुचकर अधिकारियो से वार्ता की व ढांढ़स बधायां पकड़ी थानाप्रभारी योगेश यादव दलबल के साथ पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम को भेजा। बिजली विभाग के प्रति लोगों में आक्रोश रहा। कारण कि वर्षो से यह तार चल रहा था जिससे किसी का कनेक्शन तक नहीं था पर लिखीत सूचना के बाद भी तार को विभाग हटवा नहीं सका था। लोगों के आक्रोश के बीच पुलिस ने घटनास्थल पर ही पंचनामा कर शव को सीधे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

 रिपोर्ट संजय पांडे

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

वतन लौटी प्यार के लिए पाकिस्तान गई अंजू, सामने आई ये वजह वतन लौटी प्यार के लिए पाकिस्तान गई अंजू, सामने आई ये वजह
नई दिल्ली : पहले भारत से पाकिस्तान पहुंची। फिर शादीशुदा होने के बावजूद पाकिस्तानी युवक से राजस्थान की अंजू ने...
बलिया में दो दिसम्बर को लगेगा रोजगार मेला : 300 युवाओं को मिलेगी नौकरी, देखिए पात्रता
प्राथमिक शिक्षक संघ : खुशनुमा माहौल में बलिया नगर का चुनाव, अध्यक्ष और मंत्री निर्विरोध निर्वाचित
30 नवम्बर 2023 : जानिए आज का राशिफल
29 फरवरी तक निरस्त रहेगी ये 18 ट्रेन, 24 की आवृत्ति में कमी
पीपीएस से IPS बने 25 अधिकारियों को मिली नई तैनाती, देखिए पूरी लिस्ट
बलिया : छेड़खानी पड़ी भारी, पुलिस ने युवक को पहुंचाया 'लाल घर'