मानसूनी बारिश ने उजाड़ी गृहस्थी: जमींदोज हुई दो रिहायशी झोपड़ियां

मानसूनी बारिश ने उजाड़ी गृहस्थी: जमींदोज हुई दो रिहायशी झोपड़ियां

सिकन्दरपुर, बलिया। 36 घंटों से लगातार हो रही बारिश की वजह से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। नगर के राजभर बस्ती में सोमवार की देर रात अचानक  दो रिहायशी झोपड़ी के भरभरा कर गिर जाने से परिवार वाले बाल बाल बचे। जबकि उसमें रखा सारा सामान पूरी तरह से नष्ट हो गया है। नगर के राजभर बस्ती में सोमवार की देर रात श्यामदेव राजभर का परिवार खाना खा पीकर सोने की तैयारी कर रहा था कि अचानक लगातार हो रही बारिश से उनकी रिहाईसी झोपड़ी भरभरा कर गिरने लगी। परिवार के लोग जो जहां था वहीं से इधर-उधर भागना शुरू किया तथा किसी तरीके से झोपड़ी के बाहर भाग कर अपने आप का बचाव किया। देखते ही देखते कुछ ही सेकंड में दो रिहायशी झोपड़ियां भरभरा कर गिर गई। जिनमें श्यामदेव राजभर के पूरे परिवार के खाने- पीने का सामान से लेकर ओढ़ने, सोने, बैठने के सारे सामान नष्ट हो गए। देर रात होने की वजह से परिजनों ने किसी तरह से इधर उधर रात व्यतीत किया। सभी सामानों के नष्ट हो जाने की वजह से परिजनों के आगे भोजन की सबसे बड़ी समस्या आ खड़ी हुई है। परिजनों के अनुसार यदि प्रशासन से कोई सहायता मिल जाता तो उनके लिए सहूलियत होती।

By-Sk Sharma

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की बहन समेत दर्जनों लोग बीमार फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की बहन समेत दर्जनों लोग बीमार
UP News : संभल जिले में जुनाबई थाना क्षेत्र के अजीजपुर गांव में बारात में फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की...
वीडियो कॉल पर 200 रुपये में 5 मिनट गंदी बातें, पकड़ी गईं 6 'ड्रीमगर्ल्‍स'
करके सीखों कार्यक्रम : जूस बनाने से लेकर बच्चों को मिलेगी पंक्चर और पकौड़ा बनाने की ट्रेनिंग
डोनाल्ड ट्रंप की रैली में फायरिंग : जानलेवा हमले में बाल-बाल बचे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, मारा गया शूटर
शिक्षकों की ऑनलाइन हाजिरी पर यूपी के पूर्व बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविन्द चौधरी ने सरकार को दी नसीहत
कार्यकर्ताओं का मान सम्मान सर्वोपरि : केतकी सिंह
बलिया में आकाशीय बिजली झुलसी एक ही परिवार की तीन महिलाएं