बिजली के लिए आर-पार की लड़ाई: कांग्रेस नेता करेंगे आमरण अनशन

 बिजली के लिए आर-पार की लड़ाई: कांग्रेस नेता करेंगे आमरण अनशन



बैरिया(बलिया)। बिजली आपूर्ति को लेकर प्रदेश की योगी सरकार भले लाख दावा करे लेकिन बलिया बिजली को लेकर खींच खींच थमने का नाम नहीं ले रही।  तभी तो सरकारी दावे के उलट जनपद वासियों महज सात से आठ घंटे  मिलने वाली बिजली से काम चलाना पड़ रहा है। हालांकि  अधिकारियों का तर्क है कि तकनीकी खामी के चलते विद्युत आपूर्ति में बाधा उत्पन्न हो रही। लेकिन हकीकत विभागीय अधिकारियों की लचर कार्यप्रणाली है, जिसकी बदौलत 
दिघार में तीन करोड़ 66 लाख की लागत बना 33/11 केबीए के विद्युत उपकेंद्र अब तक चालू नहीं हो सका। इस उपकेन्द्र को चालू करने के लिए इंटक के जिलाध्यक्ष विनोद सिंह  मंगलवार से बेमियादी अनशन शुरू करने की घोषणा की है। कांग्रेस नेता ने  इस बाबत पत्र लिखकर जिला प्रशासन व विद्युत विभाग के अधिकारियों को भी अवगत करा दिया है।

उल्लेखनीय है कि दिघार विद्युत उपकेंद का लोकार्पण तत्कालीन सांसद भरत सिंह व विधायक सुरेंद्र सिंह द्वारा एक मार्च को किया गया था। तब बिजली विभाग के अधिकारियों ने उक्त दोनों नेताओं को बताया था कि इस विद्युत उपकेंद में तीन फीडर है, जिससे एक दर्जन से अधिक गांवों को बिजली दी जाएगी और इससे  विद्युत उपकेंद रेवती व विद्युत उपकेंद्र बैरिया का लोड कम होगा,लेकिन आज तक यह विद्युत उपकेंद चालू नहीं हो सका। इससे नाराज ग्रामीण इंटक के जिलाध्क्ष विनोद सिंह के साथ कई बार धरना -प्रदर्शन किया। बावजूद इसके बिजली विभाग ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। अंतत: इंटक के जिलाध्यक्ष ने हार-थक कर आमरण अनशन करने की घोषणा की है।         
                                     

जल्द तैयार होगा तीसरा फीडर


दिघार विद्युत उपकेंद्र के नोडल अधिकारी व अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड दो के अधिशासी अभियंता मनीष झा से पूछने पर बताया कि उक्त विद्युत उपकेंद्र से मलिकपुरा, मझौवां, पचरुखिया, नारायणपुर, दिघार, गंगापुर, रामगढ़, बलिहार, रामपुर, केवां व पियरौटा को तीन फीडरों के माध्यम से बिजली देने की योजना है, दो फीडर बनकर तैयार हैं, तीसरा फीडर कार्यदाई संस्था द्वारा नहीं बनवाया गया है। ग्रामीण दो फीडर चालू नहीं करने दे रहे हैं किंतु हम लोगों का प्रयास है कि उन्हें समझा बुझाकर दो फीडर चालू करा दिया जाय, तीसरे का काम पूरा होने पर उसे बाद में चालू करा दिया जाएगा। 

By- Dhiraj Singh

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

रोहित पाण्डेय हत्याकांड : 24 घंटे बाद भी बलिया पुलिस का हाथ खाली रोहित पाण्डेय हत्याकांड : 24 घंटे बाद भी बलिया पुलिस का हाथ खाली
बांसडीह, बलिया : बांसडीह कस्बा निवासी रोहित पाण्डेय की शनिवार सुबह बांसडीह कोतवाली गेट के पास धारदार हथियार से की...
बलिया : करंट की चपेट में आने से युवक की मौत
बलिया कोतवाल संजय सिंह लाइनहाजिर
गरीबी और बदनसीबी से जूझ रहे परिवार के बीच 'राहत' लेकर पहुंचा बलिया का मदद संस्थान
क्या सच में केरल सरकार ने की है अपने 'विदेश सचिव' की नियुक्ति, मुख्य सचिव ने जारी किया यह बयान
बलिया में मासूम बालिका से दुष्कर्म, 28 साल के आरोपी युवक को मिली 25 साल की सजा
बलिया पुलिस के हत्थे चढ़ा युवक, संगीन अपराध में भेजा गया जेल