खुले में घूम रहे बेजुबान, हुक्मरानों की कट रही चांदी

खुले में घूम रहे बेजुबान, हुक्मरानों की कट रही चांदी

गड़वार(बलिया)। गडवार विकासखंड के शाहपुर ग्रामसभा में विगत फरवरी माह में अस्थायी पशुआश्रय केंद्र के लिए स्थल चयन किया गया था। उक्त ग्राम पंचायत के मद में रुपया नहीं होने के कारण खाई खुदवाकर छोड़ दिया गया था। तब तक छुट्टे पशुवों को वहीँ अस्थायी रूप से बांध कर खिलाने और रखने की व्यवस्था की गई थी।टीन-शेड का निर्माण नहीं किया गया था।अभी चार दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण खुदी हुई खाई में पानी भर गया,जिससे पशुओ को काफी दिक्कत होने लगी।मंगलवार को दोपहर में शाहपुर के प्रधान द्वारा पशुओ को ब्लॉक परिसर में  टीन शेड के नीचे व्यवस्था की कमी के कारण बंधवा दिया गया।इस बाबत खंड विकास अधिकारी रणजीत कुमार से पूछने पर बताया कि पशुआश्रय में बंधे हुए छुट्टे पशुओ के भरण-पोषण के लिए जिले से 57,000 रुपया आया था,जिसमें  से 54,000 रुपये भूसा, खुद्दी एवम पशु को खिलाने वालों के ऊपर खर्च हो गए, अभी 3000 रुपये बचे है। उन्होंने बताया कि मुख्य पशुचिकित्सा अधिकारी से पशुओं के भरण-पोषण के लिए और रुपये का डिमांड किया गया है,लेकिन अभी तक इस कार्य हेतु रुपया जारी नहीं किया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि वेटनरी विभाग के अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा छुट्टे घूम रहे पशुओं को उठाना पड़ रहा है, सरकार का आदेश बस कागज तक ही सीमित रह गया है धरातल पर इन बेजुबान घूम रहे पशुओ के लिए कोई भी अच्छी व्यवस्था इस विकास खंड में नहीं है,जंहा इनको रखा जा सके। लोगों ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी का ध्यान इस समस्या के जल्द से जल्द समाधान के लिए आकृष्ट कराया है।


रिपोर्ट प्रशांत कुमार अम्बुज

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

गरीबी और बदनसीबी से जूझ रहे परिवार के बीच 'राहत' लेकर पहुंचा बलिया का मदद संस्थान गरीबी और बदनसीबी से जूझ रहे परिवार के बीच 'राहत' लेकर पहुंचा बलिया का मदद संस्थान
बलिया : धर्मपुरा गांव निवासी ओमप्रकाश राजभर की असामयिक मौत 16 जून को हो गयी थी। महज 40 साल की...
क्या सच में केरल सरकार ने की है अपने 'विदेश सचिव' की नियुक्ति, मुख्य सचिव ने जारी किया यह बयान
बलिया में मासूम बालिका से दुष्कर्म, 28 साल के आरोपी युवक को मिली 25 साल की सजा
बलिया पुलिस के हत्थे चढ़ा युवक, संगीन अपराध में भेजा गया जेल
सावन में घर बैठे स्पीड पोस्ट से प्राप्त करें श्री सोमनाथ आदि ज्योतिर्लिंग मंदिर का प्रसाद
बलिया डीएम का आदेश, मुख्यालय न छोड़ें अधिकारी
डेढ़ सौ अध्यापकों के खिलाफ बलिया बीएसए की बड़ी कार्रवाई, इन हेडमास्टरों से भी जबाब-तलब