घाघरा की संभावित कटान को लेकर सतर्क हुए डीएम, मातहतों को चेताया

घाघरा की संभावित कटान को लेकर सतर्क हुए डीएम, मातहतों को चेताया



बलिया: घाघरा और गंगा नदी के कटान की विभीषिका से बचाने के लिए जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत अभी से गंभीर हैं। उन्होंने विभाग के अधिकारियों को अस्पष्ट निर्देश दे दिया है कि अभी से कटानरोधी कार्यों को शुरू करा कर तय समय से पहले खत्म भी कर दें। जिलाधिकारी के कड़े निर्देश के क्रम में घाघरा नदी के किनारे चैनपुर गुलौरा स्थित शिव मंदिर और मनियर क्षेत्र के ककरघट्टा में बाढ़ व कटान से सुरक्षात्मक कार्य शुरू भी हो चुका है। उन्होंने शनिवार को इन दोनों स्थलों पर जाकर कार्य की गुणवत्ता को परखा। उन्होंने साफ तौर पर चेताया कि गुणवत्ता में लापरवाही या लेटलतीफी पर बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ेगा।
जिलाधिकारी सबसे पहले चैनपुर गुलौरा स्थित शिव मंदिर के पास हो रहे 3 करोड़ 34 लाख की लागत से हो रहे कटानरोधी कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे। वहां बोल्डर पीचिंग का कार्य पूरा हो चुका है। दो लेयर में 16 मीटर चौड़ाई में जिओ बैग डालने का कार्य जारी था। जिलाधिकारी ने साथ में ले गए इंजीनियरों के माध्यम से जियो बैग की गुणवत्ता को परखा। इसके बाद मनियर क्षेत्र के ककरघट्टा में हो रहे सुरक्षात्मक कार्य को देखा। वहां 1200 मीटर लंबाई में कार्य कराया जाना है। एप्रन स्लोप पिचिंग का कार्य हो रहा था। जिलाधिकारी ने वहां भी जिओ बाइक की टेस्टिंग कराने के निर्देश बाढ़ विभाग के अधिशासी अभियंता अशोक कुमार को दिए। जिलाधिकारी ने कार्य करा रहे इंजीनियरों को स्पष्ट निर्देश दिया कि निर्धारित समय से पहले कार्य पूरा हो जाना चाहिए। अगर लेटलतीफी हुई और बाढ़ का पानी आने से पहले काम पूरा नहीं हुआ तो इस बार बड़ी से बड़ी कार्रवाई हो सकती है।

सरकारी ट्यूबवेल से शिकायत हो तो मिलाएँ नम्बर

बलिया: जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत ने कहा है कि जिले में अगर कहीं भी कोई सरकारी ट्यूबेल खराब है तो अधिशासी अभियंता नलकूप सुनील कुमार भारती के सरकारी नंबर 9454415320 पर शिकायत करें। निर्धारित समय में ट्यूबेल को सही करा दिया जाएगा। उन्होंने बताया है कि किसानों की हर समस्या के समाधान के लिए प्रशासन तत्पर है। आने वाले दिनों में खेतों में पानी की जरूरत और ट्यूबेल की उपयोगिता को देखते हुए नलकूप खण्ड को यह निर्देश दिया गया है कि प्रत्येक सरकारी ट्यूबेल चालू हालत में रहना चाहिए। अगर कहीं कोई खराब है तो तत्काल इस नंबर पर शिकायत करें, ताकि समय से उसे सही कराया जा सके।


By-Ajit Ojha

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News