तीन साल की गुड़िया को ऐसे मिली नई जिंदगी

तीन साल की गुड़िया को ऐसे मिली नई जिंदगी


गोरखपुर। कुशीनगर की तीन साल की गुड़िया को बीआरडी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों ने नई जिंदगी दी है। डॉक्टरों ने क्रिटिकल ऑपरेशन कर गुड़िया के आहार नाल में फंसे लॉकेट को निकाल दिया है। परिजनों ने खुशी जताते हुए डॉक्टरों के प्रति आभार जताया है।

रामकोला की रहने वाली तीन साल की गुड़िया अपने घर पर करीब एक सप्ताह पूर्व खेल रही थी। खेलते-खेलते ही उसने एक लॉकेट को निगल लिया। बच्ची जब चिल्लाने लगी, तब परिजन निजी चिकित्सकों के पास गए।

वहां डॉक्टरों ने एक्स-रे करवाया तो पता चला कि आहार नाल में कुछ फंसा हुआ है, जिसके लिए ऑपरेशन करना होगा। इस पर परिजन कुशीनगर जिला अस्पताल लेकर गए, जहां से डॉक्टरों ने मंगलवार को गुड़िया को बीआरडी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया।

मेडिकल कॉलेज में मंगलवार को जांच हुई तो तय हुआ कि बुधवार की सुबह नाक, कान व गला रोग विभाग के विशेषज्ञ असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. आदित्य पाठक, डॉ. विनती, एनेस्थेसिया विभाग के डॉ. आशीष अग्रवाल की देखरेख में ऑपरेशन होगा।

डॉ. आदित्य पाठक ने बताया कि ऑपरेशन बेहद जटिल था। इसकी वजह से समय लगा। बताया कि ईसोफैगो स्कोपी एंड फोरेनबाडी रिमूवल ऑपरेशन कर लॉकेट को निकाल दिया गया है। अब मासूम खतरे से बाहर है। बताया कि अगर एक दिन और देरी होती तो बच्ची की जान भी जा सकती थी।


Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

दुनिया को असमय अलविदा करने वाले शिक्षक के घर मदद लेकर पहुंचा राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ दुनिया को असमय अलविदा करने वाले शिक्षक के घर मदद लेकर पहुंचा राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ
बलिया : अपने व्यवहार से सभी के दिल में खास जगह बनाकर दुनिया को असमय अलविदा करने वाले शिक्षा क्षेत्र...
बलिया में भीषण सड़क हादसा : शादी समारोह से लौट रही सफारी पलटी, चार युवकों की दर्दनाक मौत
एक बार फिर बदल गया 8वीं तक के स्कूल संचालन का समय
25 अप्रैल 2024 : जानिएं क्या कहते है आपके सितारे, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया में किसानों की जमीन पर बाढ़ विभाग की दखल, अन्नदाताओं ने JE के खिलाफ दी तहरीर
बलिया : बोलेरो की टक्कर से बाइक सवार शिक्षक की मौत, दो युवक घायल
बलिया : ड्यूटी पर तैनात सिपाही का बल्ब चुराते वीडियो वायरल !