हत्या के बाद भाभी को भूसा में छिपाया बेवफा देवर

हत्या के बाद भाभी को भूसा में छिपाया बेवफा देवर


गाजीपुर। मुहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के चकबाकर रजेला गांव के जीउत राम की विवाहिता पुत्री गुडिय़ा देवी (23) की मंगलवार को सुबह गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्या के पश्चात हत्यारा शव को भूसा में ढककर फरार हो गया। जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दी।

जीउत राम अपनी मंझली पुत्री गुड़िया की शादी बरेली जनपद के नेवादा गांव के रहने वाले सुरजीत पुत्र पृथ्वी के साथ की थी। परिजनों के मुताबिक गुड़िया कुछ दिनों बाद अपने देवर अजय के साथ रहने लगी। वह करीब दो माह पूर्व अजय के साथ मायके आ गई। इस बीच करीब एक सप्ताह पूर्व किसी बात को लेकर दोनों के बीच कुछ अनबन हो गई थी, जो अब सामान्य हो चला था। 

मंगलवार की सुबह जीउत अपनी पत्नी व दो पुत्रियों को साथ लेकर फसल कटाई के लिए सिवान में चले गए। घर में गुड़िया व अजय के अलावा उसकी बड़ी बहन शीला की अबोध लड़कियां थी। अजय ने लड़कियों को पैसा देकर दुकान से मिठाई खरीदने के लिए भेज दिया। इसके बाद गुड़िया को अकेला देख उसके मुंह में स्वेटर ठूंसने के बाद गला दबा दिया। 

गुड़िया की मौत के बाद वह घर में रखे भूसा में उसके शव को ले जाकर छिपा दिया और फरार हो गया। जब परिवार के लोग सिवान से लौटकर गुडिय़ा व अजय को खोजने लगे तो उनका कुछ पता नहीं चला। अचानक भूसा वाले कमरे में बिल्ली की खरखराहट सुन जब बड़ी बहन शीला  गई तो अचानक उसका पैर शव पर पड़ा तो चिल्ला उठी। अगल-बगल के लोग मौके पर पहुंचकर भूसा से शव को निकाले। 

जानकारी मिलने पर प्रभारी निरीक्षक अशेषनाथ सिंह, एसएसआई देवेंद्र यादव, उपनिरीक्षक अजय यादव मय फोर्स मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में कर थाने ले गए। इस मामले में मृतका के पिता जीउत राम ने अजय के खिलाफ हत्या की तहरीर दी है। प्रभारी निरीक्षक अशेषनाथ सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर अभियुक्त की तलाश शुरू कर दी गई है।


Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

डोनाल्ड ट्रंप की रैली में फायरिंग : जानलेवा हमले में बाल-बाल बचे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, मारा गया शूटर डोनाल्ड ट्रंप की रैली में फायरिंग : जानलेवा हमले में बाल-बाल बचे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, मारा गया शूटर
Gunfire at Donald Trump's rally: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर एक चुनावी रैली में जानलेवा हमला हुआ है।...
शिक्षकों की ऑनलाइन हाजिरी पर यूपी के पूर्व बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविन्द चौधरी ने सरकार को दी नसीहत
कार्यकर्ताओं का मान सम्मान सर्वोपरि : केतकी सिंह
बलिया में आकाशीय बिजली झुलसी एक ही परिवार की तीन महिलाएं
थाना समाधान दिवस : बलिया डीएम बोले- शिकायतों का हो गुणवत्तापूर्ण निस्तारण
बलिया में डिजिटलाइजेशन के खिलाफ शिक्षक, शिक्षामित्र, अनुदेशक कर्मचारी संयुक्त मोर्चा ने लिया बड़ा फैसला
क्रिकेट जगत में उपलब्धि के लिए बलिया की शिक्षिका करिश्मा वार्ष्णेव सम्मानित