टिहरी बांध से मुक्ति में गंगा की सलामती निहित: तिवारी

टिहरी बांध से मुक्ति में गंगा की सलामती निहित: तिवारी


बलिया। धरा-धाम पर गंगा की सलामती अब सिर्फ नारा लगाने से नहीं बल्कि अविरलता तथा टिहरी आदि बांधों से मुक्ति के सवाल पर कठोर एवं प्रभावकारी निर्णय लेने से सम्भव है। उक्त बातें गंगा मुक्ति एवं प्रदूषण विरोधी अभियान के राष्ट्रीय प्रभारी रमाशंकर तिवारी ने गुरूवार को प्रयाग स्थित कैवल्यधाम में आयोजित गंगा आन्दोलन की समीक्षा बैठक में भाग लेकर वापस बलिया लौटने पर पत्रकारों से कही। श्री तिवारी ने दावे के साथ कहा कि प्रदेश में बुलन्दशहर से लेकर बलिया तक गन्दे नाले तथा कानपुर एवं कन्नौज की औद्योगिक इकाइयां नमामि गंगे योजना के प्रयासों को गहरा झटका देकर गंगा प्रदूषण को बढ़ावा दे रही है। कहा, खुद वाराणसी से अस्सी नाला गंगा की गरिमा को कलंकित कर रहा है। केन्द्रीय कोशिशे, आश्वासन तथा निर्देश तक सीमित है। उन्होंने केन्द्र सरकार को सुझाव दिया कि वह नदियों की सफाई के स्तर पर की जा रही अनियमितता पर प्रहार कर, निर्मल एवं सजल गंगा की प्राचीनता चरितार्थ करे। कहा बलिया में कटहल नाला गंगा के लिए अभिशाप बना हुआ है। कहा, विश्व की कोई भी तकनीक गंगा को नहरों तथा बांधों के गतिरोध से मुक्त किये बिना निर्मल नहीं कर पायेगी। केन्द्र को इस ओर गम्भीर मंथन करना चाहिये।


By-Ajit Ojha

Post Comments

Comments

Latest News

महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें महाशिवरात्रि विशेष : शिव पूजन की कुछ रहस्यमयी बातें
Mahashivratri 2024 : भारतवर्ष में देवाधिदेव आशुतोष भगवान शिव की पूजा सबसे अधिक की जाती है। वैसे तो भगवान शिव...
4 मार्च का राशिफल : जानिएं क्या कहते है आपके सितारें
बलिया पहुंचे मंत्री एके शर्मा ने किया कई विकास कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास, बोले- ताजा हो गई बचपन की यादें
बलिया के लाल को मिला श्याम सुन्दर दास पुरस्कार, मुस्कुराया साहित्य जगत 
बलिया : बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी से कतरा रहे शिक्षकों के लिए बुरी खबर, बीएसए ने जारी किया यह निर्देश
बलिया में चोरी की बाइक पर फर्राटा भर रहा था युवक, पड़ी पुलिस की नजर
बलिया में दबंगई का शिकार हुआ युवक, मौत की सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस