बलिया : बदलते समाज को वरिष्ठ पत्रकार की बेटी कामना ने दिखाया आइना

बलिया : बदलते समाज को वरिष्ठ पत्रकार की बेटी कामना ने दिखाया आइना

                       कामना पांडेय 
बदलता समाज

जब साथ सब हुआ करते थे, हर लम्हा साथ जिया करते थे।
जब दिल में नफरत नहीं प्यार हुआ करते थे ,
तब सिर्फ साथ रहने की ही ख्वाहिश सब किया करते थे।
जब होली और ईद में दुश्मन भी दोस्त बन जाया करते थे ,
तब मिल बाट कर सब जिया करते थे।
जब माँ-बाप से रुठ कर भी हम मान जाया करते थे,
तब उनके प्यार की कीमत हम समझ जाया करते थे।
काश मोड़ सकती इस समय को फिर उसी ही दौर में,
जहाँ प्यार को बेचा न जाता था खुले बाजार में।
काश मोड़ सकती इस समय को फिर उसी ही दौर में,
जहाँ माँ-बाप न भेजे जाते थे, कभी ओल्ड एज होम में।
काश मोड़ सकती इस समय को फिर उसी ही दौर में ,
जहाँ बंटवारे नहीं होते थे कभी एक ही घर में।
ये इंसानों का खेल देखो क्या नए-नए करतब दिखलाता है,
सुंदर सी इस धरती का और क्या हष्र बनाता है। 
                                                  
कामना पांडेय
(लेखिका, बलिया के वरिष्ठ पत्रकार श्रवण पांडेय की पुत्री है।)

Post Comments

Comments

Latest News

  जी हां ! फिल्मों को छोड़ कहीं नहीं देखें होंगे ऐसी शादी जी हां ! फिल्मों को छोड़ कहीं नहीं देखें होंगे ऐसी शादी
Lucknow News : राजधानी लखनऊ में शादी का एक अनोखा मामला सामने आया है। ऐसी शादी शायद फिल्मों को छोड़कर...
बलिया : आज इन इलाकों में दो घंटे बाधित रहेगी बिजली, देखें लिस्ट
16 जून 2024 : कैसा रहेगा अपना आज, पढ़ें दैनिक राशिफल
बलिया के इस गांव में कुछ यूं दिखी दबंगई
अंत: जनपदीय पारस्परिक स्थानांतरण वाले शिक्षक जल्द होंगे कार्यमुक्त, देखें बलिया BSA द्वारा जारी कार्यक्रम
रुद्रप्रयाग में बड़ा हादसा : अलकनंदा में गिरी ट्रेवलर, 13 की मौत ; कई घायल
बलिया में चोरी की तीन बाइकों के साथ दो युवक गिरफ्तार