लॉक डाउन में बिगड़ा बजट तो रिक्शे से चल दिये घर, बलिया पहुंचे तो...

लॉक डाउन में बिगड़ा बजट तो रिक्शे से चल दिये घर, बलिया पहुंचे तो...



बैरिया, बलिया। देश की राजधानी में रिक्शा चला कर जीवन यापन करने वाले बिहार के समस्तीपुर जनपद अंतर्गत हसनपुर निवासी मुनेश्वर प्रसाद व प्रमोद कुमार बिना खाए-पीए रिक्शा चलाते हुए सातवें दिन शुक्रवार को बैरिया पहुंचे। बैरिया त्रिमुहानी स्थित सहायता केंद्र पर कामधेनु मिष्ठान भंडार के संचालक संतोष कुमार व उनकी टीम ने उन्हें जलपान कराया। दर्द बुखार की दवा दिया। जलपान के बाद उक्त दोनों लोग रिक्शा चलाते हुए अपने गंतव्य की ओर रवाना हो गए।
दोनों रिक्शा चालकों ने बताया कि लाक डाउन के कारण दिल्ली में उनकी आमदनी ठप्प हो गई। जो पैसे थे, खाने में खत्म हो गए और अंतत: अपना रिक्शा लेकर दिल्ली से समस्तीपुर के लिए निकल पड़े। गुरुवार को दिल्ली से चले थे। शनिवार तक नौ दिनों में अपने गांव पहुंच जाएंगे। दोनों रिक्शा चालकों ने बताया कि कानपुर में किसी संस्था के लोगों ने उन्हें भोजन कराया था, उसके बाद रास्ते में कहीं कोई सहायता नहीं मिली। प्रति दिन 150 किमी के लगभग रिक्शा चलाते है। अब मंजिल नजदीक है। भगवान का सहयोग रहा तो शनिवार की देर शाम तक हर हाल में हम लोग अपने घर पहुंच जाएंगे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया में खाद्य सुरक्षा को लेकर स्कूली बच्चों ने किया वॉकाथान, इन स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने मारी बाजी बलिया में खाद्य सुरक्षा को लेकर स्कूली बच्चों ने किया वॉकाथान, इन स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने मारी बाजी
बलिया खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशन...
तिरंगे में लिपटा घर पहुंचा बलिया का लाल, नम हुई हर आंखें
थिएटर्स में धमाल मचा रही 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया', कमाई 100 करोड़ पार 
सब इंस्पेक्टर के खिलाफ एसपी का बड़ा एक्शन
Ballia Road Accident : तिलक समारोह से लौट रही जीप में पिकअप ने मारी टक्कर, अब तक 6 की मौत, चार रेफर
बलिया : पॉक्सो एक्ट में दोषी अभियुक्त को जुर्माना संग 10 वर्ष सश्रम कारावास की सजा
शिक्षिका से छेड़छानी, सहायक अध्यापक सस्पेंड