झमाझम बारिश से खिले किसानों के चेहरे, मिली उमस से राहत

झमाझम बारिश से खिले किसानों के चेहरे, मिली उमस से राहत



सिकन्दरपुर ,बलिया। शनिवार को सुबह से शाम तक झमाझम बारिश से किसानों के चेहरे खिल गए। वहीं भीषण गर्मी व उमस से लोगों को काफी राहत मिली है। पानी के बगैर बेहाल पशु पक्षियों को भी प्रकृति ने जीवन दान दे दिया है। हालाकि बरसात ने गांवों व नगरपंचायत की साफ सफाई की पोल खोल दी है। लेकिन घंटो हुए मूसलाधार बारिश से सालो से जमे नाबदान के कीचड भी साफ हो गए है। खेतो में किसानों के पड़े बेहन डूब गए वहीं बारिश होते ही सूखे पड़े हैंडपंप भी पानी देने लगें है। ताल तलैया खेतों में भी जल से लबालब हो गए है। मौसम विभाग की समस्त अटकलों को खारिज करते हुए शुक्रवार की आधी रात से क्षेत्र में शुरू हुई बारिश शनिवार को शाम तक जमकर बरसी। बारिश के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। घंटो हुए बरसात से जहा सड़कों पर आवागमन ठप है, वहीं नगर की दुकानें सुनी सुनी रही। दिनभर ग्राहक नहीं दिखाई पड़े। इस सबके बावजूद लोगों को भीषण गर्मी से काफी राहत मिली है। किसानों के चेहरे भी खिले हुए दिखें। किसानों की माने तो ऐसी बरसात चार दशक पूर्व हुई थी। जब पहली ही बरसात में तालाब एवं खेत जल से लबालब हो जाते थे। किसानों का मानना है कि धान की अच्छी फसल की उम्मीद बढ़ गई है। हालाकि खेतो में भी पानी जमा होने के कारण धान की बेहन डूब गई है।

By-Sk Sharma

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

बलिया में माहौल बिगाड़ने की कोशिश, चार लोगों के खिलाफ मुकदमा बलिया में माहौल बिगाड़ने की कोशिश, चार लोगों के खिलाफ मुकदमा
बलिया : अराजकतत्वों द्वारा हनुमान मंदिर में मांस का टुकड़ा फेंक कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई। मंदिर परिसर...
लोक सभा चुनाव 2024 : व्यय लेखा रजिस्टर पर बलिया STO की पैनी नजर
बलिया : अंकुर पाण्डेय को समाजवादी पार्टी ने दी बड़ी जिम्मेदारी
बलिया में आग की लपटों का तांडव, खड़ी गेहूं की फसल राख ; वर्दी में दिखी मानवीयता
बलिया डीएम ने जारी की हीट वेव से बचने को एडवाइजरी 
डीजे पर डांस कर रही दूल्हे की बुआ के पास चुपके से पहुंची मौत
बलिया : ई-रिक्शा, ऑटो और स्कार्पियो में टक्कर, दो रेफर