चौकी इंचार्ज की बेटी श्वेता सिंह की सफल उड़ान, राज्यपाल के हाथों मिला सम्मान

चौकी इंचार्ज की बेटी श्वेता सिंह की सफल उड़ान, राज्यपाल के हाथों मिला सम्मान

मऊ। पीजीआई लखनऊ से एमडी की पढ़ाई पूरी करने पर जिले के सारहू चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार सिंह की बड़ी बेटी डॉ श्वेता सिंह को पीजीआई में आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल व उत्तर प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री श्री बृजेश पाठक ने सम्मानित किया। शुरू से ही मेधावी रही डॉ श्वेता सिंह की इस सफलता से परिवार में खुशी की लहर है। 

मूल रूप से जौनपुर जनपद के रूपचन्द्रपुर गांव निवासी प्रमोद कुमार सिंह की पुत्री तथा स्व. लालता प्रसाद व स्व. श्रीमती कलावती देवी की पौत्री श्वेता सिंह हाईस्कूल व इण्टर मीडिएट की पढ़ाई मिर्जापुर जनपद से भारतीय बालिका इण्टर कालेज से पूरी की। केजीएमसी लखनऊ से एमबीबीएस तथा पीजीआई लखनऊ से एमडी पैथोलॉजी की पढ़ाई कर डॉ श्वेता सिंह अपने लक्ष्य के प्रति अडिग हैं। 

डॉ श्वेता सिंह डीएम की तैयारी कर चिकित्सा क्षेत्र में मजबूत मुकाम हासिल करना चाहती हैं। डॉक्टर श्वेता सिंह कहती है कि अगर व्यक्ति अपने लक्ष्य के प्रति सजग रहें तो उसे सफलता पाने से कोई रोक नहीं सकता। उन्होंने प्रतियोगी परीक्षाओं एवं मेडिकल की तैयारी करने वाले छात्र छात्राओं से कहा है कि आप पूरी ईमानदारी से अपनी पढ़ाई में ध्यान दीजिए। अपने लक्ष्य को निशाना बनाइए, आपको सफलता पाने से कोई रोक नहीं सकता।डॉ श्वेता सिंह के भाई दीपक सिंह एमटेक कर मेट्रो ट्रेन कम्पनी में इंजीनियर हैं, जबकि छोटी बहन शालिनी सिंह बीटेक करके पीसीएस की तैयारी कर रही है।

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News

फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की बहन समेत दर्जनों लोग बीमार फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की बहन समेत दर्जनों लोग बीमार
UP News : संभल जिले में जुनाबई थाना क्षेत्र के अजीजपुर गांव में बारात में फूड प्वाइजनिंग से दुल्हन की...
वीडियो कॉल पर 200 रुपये में 5 मिनट गंदी बातें, पकड़ी गईं 6 'ड्रीमगर्ल्‍स'
करके सीखों कार्यक्रम : जूस बनाने से लेकर बच्चों को मिलेगी पंक्चर और पकौड़ा बनाने की ट्रेनिंग
डोनाल्ड ट्रंप की रैली में फायरिंग : जानलेवा हमले में बाल-बाल बचे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, मारा गया शूटर
शिक्षकों की ऑनलाइन हाजिरी पर यूपी के पूर्व बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविन्द चौधरी ने सरकार को दी नसीहत
कार्यकर्ताओं का मान सम्मान सर्वोपरि : केतकी सिंह
बलिया में आकाशीय बिजली झुलसी एक ही परिवार की तीन महिलाएं