अंडर पास सुरंग के निर्माण में मानक की अनदेखी पर बिफरे आईओडब्लू

अंडर पास सुरंग के निर्माण में मानक की अनदेखी पर बिफरे आईओडब्लू


रसड़ा/बलिया। फेफना इंदारा रेल प्रखण्ड अन्तर्गत माधोपुर के निकट बन रहे अंडर पास सुरंग के निर्माण में धंाधली के आरोपों की सोमवार को आईओडब्लू एके श्रीवास्तव ने जांच की और साइड इंचार्ज समेत संबधित ठेकेदार को कड़ी फटकार लगाई।
विदित हो कि रेलवे द्वारा उक्त रेल खंड पर नौ स्थानों पर अंडर पास सुरंग का निर्माण कराया जा रहा है।इससे एक ओर जहां रेल हादसों में कमी होगी तो वहीं दूसरी ओर ग्रामीणों को भी आये दिन हो रहे दुर्घटनाओं से राहत मिल सकेगी। इस दिशा में रेलवे प्रशासन ने फेफना व इंदारा के बीच कुल 9 स्थानों पर अंडर पास सुरंग ;एलएचएसद्ध के निर्माण कार्य प्रस्तावित है।

 इसी क्रम में माधोपुर के निकट मानव रहित क्रासिंग गेट संख्या 13/सी पर सुरंग निर्माण का कार्य प्रगति पर है। अंडरपास सुरंग के निर्माण की जानकारी देते हुए रेल प्रशासन के आईओडब्लु एके श्रीवास्तव ने बताया कि अंडरपास सुरंग बन जाने से रेल लाइन के नीचे बने सुरंग से ही अपने साधनों से जा सकेंगे। प्रत्येक अंडरपास सुरंग के निर्माण लगभग 1.50 करोड़ व्यय होंगे। उन्होंने यह भी बताया कि निर्माणाधीन अंडरपास सुरंग का निर्माण कार्य 30 जून तक पूरा कर लिया जायेगा। मगर मानक के विपरित सफेद बालू  का प्रयोग धड़ल्ले से किया जा रहा है। जिससे भविष्य में भीषण दुर्घटना होने की संभावना प्रबल हो गई जो ग्रामीणों का चिंता का विषय बन गया है।

इस खबर को रविवार को प्रकाशित किया था। यह खबर का असर रहा कि सोमवार को आनन-फानन में जांच करने आईओडब्ल्यू एके श्रीवास्तव गेट संख्या 13/ सी पर पहुंचे और घंटों जांच के बाद बताया की पुष्पावती इण्टर प्राइजेज के द्वारा अंडर पास सुरंग का निर्माण कराया जा रहा।निर्माण कार्य में हिलाहवाली को लेकर लोगों द्वारा लगाया गया आरोप जांच में सही पाया गया है। उन्होंने बताया कि साइड इन्जार्ज द्वारा गुणवत्ता विहीन निर्माण कराया जा रहा था, इसके लिए डांट संबधित ठेकेदार को फटकार लगाई गई है। साथ ही कार्यदायी संस्था सहित उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया।

रिपोर्ट- पिन्टू सिंह

Related Posts

Post Comments

Comments

Latest News