To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

अजीत, मनोरमा और दीपिका ने बढ़ाया सतीश चंद्र कॉलेज बलिया का मान

बलिया। सतीश चंद्र महाविद्यालय में हिंदी शोध छात्र अजीत कुमार वर्मा 'निराला' ने हिंदी विषय में जेआरएफ एवं नेट परीक्षा में सफलता प्राप्त किया है। वही मनोरमा वर्मा व दीपिका पांडे ने प्रथम प्रयास में ही नेट की परीक्षा उत्तीर्ण कर महाविद्यालय का शान बढ़ाया है। 

बता दें कि सतीश चंद्र कॉलेज कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर बैकुंठ नाथ पांडे जी व हिंदी विभागाध्यक्ष डॉक्टर श्रीपति कुमार यादव व डॉ रवि प्रताप शुक्ला द्वारा लगातार महाविद्यालय में विभिन्न विषयों में परास्नातक कर रहे विद्यार्थियों को नेट जेआरएफ परीक्षा के लिए तैयार किया जा रहा था। इनके सफल प्रयासों ने आज विश्वविद्यालय को भी गौरवान्वित किया है। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर बैकुंठ नाथ पांडे ने सफल अभ्यर्थियों को शुभकामना देते हुए उनकी सफलता का श्रेय उनके कठिन परिश्रम व हिंदी विभागाध्यक्ष डॉक्टर श्रीपति कुमार यादव को दिया। साथ ही विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुए इस संख्या को बढ़ाने की बात कही।

अजीत कुमार वर्मा 'निराला' 

अजीत कुमार वर्मा 'निराला' शोध के विद्यार्थी हैं। वे सतीश चंद्र महाविद्यालय के हिंदी विभागाध्यक्ष श्रीपत कुमार यादव के सानिध्य में पीएचडी कर रहे हैं। अजीत कुमार वर्मा ने अपनी सफलता का श्रेय अपने गुरु प्रोफेसर श्रीपति कुमार यादव, प्राचार्य डॉ बैकुंठ नाथ पांडे, माता-पिता, भाई अनूप वर्मा, अपनी पत्नी कंचन वर्मा (बीएचयू शोध छात्रा) एवं सभी शुभेच्छुओं को दिया है। 

मनोरमा वर्मा

मनोरमा वर्मा ने अपनी सफलता का श्रेय विद्यालय के हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ श्रीपति कुमार यादव, प्रोफेसर एकेडमी बलिया के संस्थापक डॉ मंजीत सिंह व माता पिता को दिया। 

                           दीपिका पांडेय 

दीपिका पांडे ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां शशि पांडे, दाद तारकेश्वर पांडे को देती है। दीपिका ने बताया कि यूजीसी नेट परीक्षा के लिए मुझे प्रेरणा हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ श्रीपति कुमार यादव और मेरे मौसा प्रधानाचार्य कृष्ण मुरारी पाठक जी से प्राप्त हुई। 


Post a Comment

0 Comments