To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

अद्भुत, अलौकिक, अविस्मरणीय : बलिया के गंगापुर घाट पर जले आस्था, आह्लाद और आत्मीयता के दीप

हरेराम यादव
मझौवां, बलिया। अद्भुत, अलौकिक, अविस्मरणीय... गंगा नदी के पावन तट पर विद्वान पंडितों द्वारा मंत्रोच्चारण के बीच आस्था, आह्लाद और आत्मीयता के दीप जले, जिसकी अलौकिक छटा आस्थावान निहारते रहे। हर-हर गंगे से पूरा वातावरण गूंजायमान रहा। 

बलिया-बैरिया मार्ग पर स्थित काली मंदिर हुकुम छपरा, गंगा पुर घाट पर अक्षय नवमी के अवसर पर ग्राम पंचायत गंगापुर के तरफ से गंगा महा आरती का आयोजन किया गया। गंगा महा आरती का शुभारम्भ ख्यातिलब्ध सन्त रामभद्राचार्य बालक बाबा व उप जिलाधिकारी बैरिया आत्रेय मिश्र, क्षेत्राधिकारी बैरिया मोहम्मद उस्मान तथा खंड विकास अधिकारी बेलहरी पन्नालाल यादव ने संयुक्त रुप से गंगा घाट पर दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

गंगा आरती में गंगा घाट को दीपों से सजाते हुए विभिन्न वैदिक मंत्रों के साथ आरती किया गया। इसमें ग्राम वासियों के साथ-साथ क्षेत्र के अनेक गणमान्य व्यक्ति भी शामिल रहे। इस दौरान श्रद्धालुओं ने पांच हजार एक दीप दान किया। मौके पर गंगापुर प्रधान प्रतिभा यादव, प्रतिनिधि उमेश यादव, गौरी शंकर पाण्डेय, उमाशंकर पाण्डेय, प्रधान रवी सिंह, सतन यादव, धर्मबीर सिंह, शिवजी सिंह, अजय चौबे, विजय यादव, राजीव चौबे आदि थे। प्रधान प्रतिनिधि उमेश यादव ने मुख्य अतिथियों व मीडियाकर्मियों को अंग बस्त्र से सम्मानित किया।










Post a Comment

0 Comments