To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन बलिया : शिक्षकों ने अवधेश सिंह और अच्छेलाल यादव को सौंपा पंदह ब्लॉक का नेतृत्व


बलिया। विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन बलिया के पंदह ब्लॉक का अधिवेशन/चुनाव कम्पोजिट विद्यालय एकइल के प्रांगण में सम्पन्न हुआ। अधिवेशन का उद्घाटन जनपदीय पदाधिकारियों ने मां सरस्वती के तैल चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

मुख्यातिथि जिलाध्यक्ष डॉ. घनश्याम चौबे ने कहा कि एसोसिएशन एक-एक शिक्षकों के समस्या के समाधान और सम्मान के लिये दृढ़ संकल्पित है। संगठन का उद्देश्य अपने सदस्यों पर होने वाले अन्याय, उत्पीडन और शोषण के खिलाफ मुखर विरोध करना होता है, लेकिन वर्तमान समय में तथा-कथित स्वयम्भू नेताओं की चंदा, चुनाव और चाटुकारिता की राजनीति नें अधिकारियों का मनोबल बढ़ाया है। ऐसी परिस्थिति में गुलदस्ता संस्कृति के पोषक तथा-कथित स्वयम्भू नेताओं का प्रतिकार करते हुए हम शिक्षक हितों की रक्षा के लिये एसोसिएशन के बैनर तले संगठित होकर अपनी चट्टानी एकता प्रदर्शित करें।

डॉ. चौबे ने कहा कि हम दो संकल्प लेकर आप के बीच आये हैं। पहला यह कि ब्लॉकों में मुख्य रुप से शिक्षक उत्पीडन के लिये जिम्मेदार मठाधिसी व्यवस्था को ध्वस्त करना और दूसरा नौकरशाही उत्पीड़नों पर लगाम लगाना और यह तब ही संभव हो पायेगा, जब इस संकल्प रुपी यज्ञ में सभी संगठित होकर एक-एक आहुति देने का संकल्प लें।

अधिवेशन के दूसरे सत्र में शिक्षकों ने सर्वसम्मति से ब्लॉक अध्यक्ष अवधेश सिंह व मंत्री अच्छेलाल यादव का चुनाव निर्विरोध किया। साथ ही वरिष्ठ उपाध्यक्ष दिनेश कुमार मिश्र, उपाध्यक्ष संजय कुमार सिंह व ओमप्रकाश यादव, संगठन मंत्री त्रिपुरारी त्रिपाठी, संयुक्त मंत्री दीपक कुमार, गोपाल जी खरवार, कोषाध्यक्ष अवधभान प्रसाद खरवार, मीडिया प्रभारी संदीप कुमार सिंह एवं सोशल मीडिया प्रभारी विनय कुमार सिंह को चुना गया। सदन ने एक स्वर से अरुण कुमार सिंह को अपना संरक्षक चुना। पद और गोपनीयता की शपथ चुनाव अधिकारी उपेन्द्र नारायण सिंह व अजीत कुमार यादव ने दिलाई। अधिवेशन में सैकड़ों शिक्षकों ने भाग लिया।

अधिवेशन में धीरज राय, अवनीश सिंह, अरुण कुमार सिंह, नित्यानन्द पाण्डेय, अनिल सिंह, संजय सिंह, दिनेश मिश्रा, त्रिपुरारी त्रिपाठी, अंकुर राय, हीरालाल, धनेश कुमार, रामाशीष यादव, दीपक कुमार, शिव नारायण यादव, अनिल कुमार राय, प्रेमचंद्र राम, सत्यनरायन प्रसाद आदि ने अपना विचार रखा।

Post a Comment

0 Comments