To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया के डेढ़ हजार परिषदीय शिक्षकों ने लिया यह संकल्प

बलिया। 69000 शिक्षक भर्ती के प्रथम चरण में नियुक्त शिक्षकों के सेवा के रविवार को दो वर्ष पूरे हो गए। इस अवसर पर जिले के सैकड़ो शिक्षकों ने जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों में फल, ब्रेड व जूस वितरित करने के साथ ही धार्मिक स्थलों और रेलवे स्टेशन पर जरूरतमंदों में कम्बल वितरित किया। प्रारंभिक पात्रता परीक्षा (PET) देने आए  प्रतियोगियों में पानी का बोतलें बांटी गई।

इससे पहले जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के पास स्थित अध्यापक भवन पर एकत्रित शिक्षकों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर मुँह मीठा कराया और बधाई दी। इस दौरान संयुक्त लीगल टीम के पंकज कुमार सिंह ने कहा कि यह दिन हमलोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसी दिन हमलोगों को सरकार ने अपने कर्मक्षेत्र में शिक्षक के रूप में समाज को नई दिशा देने की जिम्मेदारी सौपी थी। 

नौकरी के शुरू के वर्षों में हमें खुद को बेहतर साबित करना था जिसे नवनियुक्त शिक्षकों ने कर दिखाया। टीम के दुष्यन्त सिंह ने कहा कि 69 हजार सहायक अध्यापक भर्ती के विभिन्न चरणों में जिले में नियुक्त करीब 1600 शिक्षक सरकार के निपुण भारत अभियान को सफल बनाने में पूर्ण मनोयोग से लगे हुए हैं। कोरोना काल में भी नवनियुक्त शिक्षकों ने बच्चों को ऑनलाइन व मुहल्ला पाठशाला के माध्यम से शिक्षित करने का कार्य किया था। ये शिक्षकों की मेहनत का फल है कि स्कूलों में बच्चों का नामांकन बढ़ा है। 69 हजार भर्ती के सभी शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा विभाग की तस्वीर बदलने का संकल्प लिया।

इस दौरान प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष जितेन्द्र सिंह, राजेश पाण्डेय, अजय मिश्र, जितेन्द्र प्रताप सिंह, तुषारकांत राय संयुक्त लीगल टीम के  विश्वनाथ पांडेय, योगेन्द्र बहादुर सिंह, राजशेखर सिंह, सौरभ कुमार, नन्दलाल, रामप्रकाश,  सतीश मेहता, ललित मोहन सिंह, संजीव, प्रवीण, जयशंकर, सूरज राय, अमित दुबे, कृष्णा पाण्डेय, दिवेन्दु, सूरज ठाकुर, अविनाश सिंह, धर्मेंद्र, उमेश, राकेश उपाध्याय, रवि, सोनू, राहुल, सर्वजीत, तौसीफ, वाहिद, शैलेश, पंकज कुमार, विपिन, धनंजय, रतन जायसवाल  आदि थे।

Post a Comment

0 Comments