To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

सांसारिक सुखों में नहीं, मनुष्य को कृष्ण की भक्ति में बिताना चाहिए अपना जीवन

बलिया। नगर से सटे अगर गांव में चल रहे संगीतमयी श्रीमद भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ में देवरिया जिले से पधारें आचार्य पंडित सीताराम तिवारी गुरुजी ने कहा कि मनुष्य को अपना जीवन सांसारिक सुखों में नहीं, बल्कि कृष्ण की भक्ति में बिताना चाहिए। मनुष्य का जीवन केवल वस्तु भोगने के लिये नहीं बना है। भगवान के शरण में सत्संग के माध्यम से जाने के लिए बना है। लेकिन आज मानव भगवान की भक्ति को छोड़कर वस्तु को भोगने में लगा हुआ है। जबकि मानव जीवन का उद्देश्य कृष्ण भक्ति है। 

उन्होंने कहा कि हमारे जीवन का उदेश्य सांसारिक जीवन में रहते हुए कृष्ण के परम धाम की भी तैयारी करते रहना चाहिये। जो लोग सच्चे मन से प्रभु के शरण में चले जाते है, उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है। सारे वेदरूपी वृक्ष का यह पका पकाया हुआ रसदार फल-फूल है। अतः इसको बार-बार पीनी चाहिये। उन्होंने शुकदेव जी के जीवन पर प्रकाश डालने के साथ ही महाराज परिक्षित जन्म से लेकर कलियुग तक की कथा का रसपान कराया। इस मौके पर आयोजक समाजसेवी भोला चौधरी, शिवनारायण यादव, गिरजा देवी समेत सैकड़ों लोगों ने कथा का रसपान किया।

Post a Comment

0 Comments