To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में जन समस्याओं को लेकर सपा का जोरदार प्रदर्शन, सौंपा 11 सूत्रीय मांग पत्र


बलिया। नगर क्षेत्र के जन समस्याओं को लेकर समाजवादी पार्टी ने शुक्रवार को जोरदार प्रदर्शन किया। साथ ही समस्याओं से संबंधित एक मांग पत्र जिला अधिकारी/नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा। इससे पहले नगर क्षेत्र के सभी इलाकों से टोलियों के रूप में समाजवादी कार्यकर्ता हाथ में झंडा लिए समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर एकत्र हुए। वहां से गगनभेदी नारा लगाते हुए जिला अधिकारी कार्यालय पर पहुंचे।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री जुलूस के नेतृत्व कर्ता नारद राय ने कहा कि बलिया नगर की नालियां बजबजा रही हैं, कोई उसका सुध लेने वाला नहीं है। जबकि इस वर्ष बारिश कम हुई है, फिर भी नगर के कई मुहल्ले जलमग्न हो जा रहे हैं। बलिया को मुंबई बनाने व जुहू चौपाटी का सपना दिखाने वाले लोग वातानुकूलित कमरों में बैठकर गलत बयानी कर रहे हैं। उन्हे ना बलिया शहर और ना ही यहां के लोगो की चिंता हैं। उन्हे सिर्फ झूठ और जुमला परोस कर जनता को ठगना हैं, लेकिन समाजवादी पार्टी ऐसा होने नहीं देगी। उनके झूठ और जुमले को जनता में उजागर करेगी। समाजवादी पार्टी की सरकार में लोहिया बाजार बना था, जो आज तक दुकानदारों में आवंटित नहीं हुआ।

समाजवादी पार्टी की सरकार में ही सीवरेज योजना शुरू हुई थी, लेकिन आज तक वह कार्य पूर्ण नहीं हुआ। नगर क्षेत्र में अंडर ग्राउंड बिजली के तारों को बिछाने का कार्य समाजवादी पार्टी की सरकार में शुरू किया गया था, जिसे वर्तमान शासन सत्ता अधर में लटकाये हुए है। समाजवादी पार्टी यह मांग करती हैं कि जनहित के इन योजनाओं को तत्काल शुरू किया जाए, अन्यथा समाजवादी पार्टी सड़क पर उतर कर इस जनविरोधी सरकार का विरोध जोरदार तरीके से करेगी। बलिया नगर क्षेत्र के विस्तार की पत्रावली कई वर्षों से शासन में पड़ी हुई है, लेकिन वर्तमान सरकार उसको दबा कर बलिया के विकास को बाधित करना चाहती हैं।

नगर पालिका परिषद बलिया के पूर्व अध्यक्ष और आयोजक संजय उपाध्याय ने कहा कि नगर के विकास एवं नगर के स्वच्छता हेतु वर्तमान सत्तासीन लोगों के पास कोई रोड मैप नहीं है। यहां तक की पिछले कार्यकाल में किए गए विकास कार्यों को भी यह लोग ध्वस्त कर दिए हैं, जिससे बलिया शहर की व्यवस्था चरमरा गई है। आए दिन शहर में जाम लगना, नालियों का पानी जाम होना, बीच रोड पर कूड़ा का अंबार लगना, इनकी कार्यपद्धति और जनता के प्रति दिलचस्पी का जीता जागता उदाहरण है।



पूर्व मंत्री व्यास जी गोड़ ने कहा कि समाजवादियों की सरकार और प्रतिनिधि ही बलिया के विकास की बात करते है। बाकी लोग तो बलिया से मजाक करते है। इस अवसर पर डा.विश्राम यादव, यशपाल सिंह, सुशील पाण्डेय "कान्हजी" बरमेश्वर प्रधान, पिंटू जावेद, रामकावल विन्द, ददन यादव, अमित दुबे, रविन्द्र नाथ यादव, मृत्युंजय राय, सतेंद्र पाण्डेय, पल्लू जायसवाल, हरिशंकर राय, उमेश कुमार, सत्येंद्र गोड, शकील अहमद, कमलेश भारती, आशुतोष ओझा, प्रेमशंकर चतुर्वेदी, रामेश्वर पासवान, आदर्श मिश्र झब्बु, दरोगा सिंह, भीम चौधरी, चिराग उपाध्याय, मंटू दुबे, कृष्ण यादव इत्यादि रहे। अध्यक्षता सपा विधानसभा अध्यक्ष अजय यादव व संचालन जमाल आलम ने किया।

Post a Comment

0 Comments