To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

ओमप्रकाश राजभर की सुभासपा में बगावत : उपाध्‍यक्ष समेत कई पदाधिकारियों ने छोड़ी पार्टी

मऊ। सुभासपा में ओमप्रकाश राजभर के खिलाफ ही बड़ी बगावत शुरू हो गई है। पार्टी के राष्‍ट्रीय उपाध्यक्ष महेन्‍द्र राजभर ने दर्जनों पदाधिकारियों के साथ सोमवार को सुभासपा की सदस्‍यता छोड़ दी। यही नहीं, महेन्‍द्र राजभर ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पर मिशन से भटकने का भी आरोप लगाया। 

यहां एक प्‍लाजा में पत्रकारों से बातचीत में महेन्‍द्र राजभर ने कहा कि सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर ऐन-केन-प्रकारेण धन बटोरने के चक्‍कर में लगे रहते हैं। 20 साल पहले 27 अक्‍टूबर 2002 को सबकी मौजूदगी में पार्टी की स्‍थापना की गई थी, तब पार्टी का मिशन गरीब, दलित, मजदूर तथा वंचित समाज का उत्‍थान था। कार्यकर्ताओं के खून-पसीने से बनी पार्टी का इस्‍तेमाल ओमप्रकाश राजभर ने सिर्फ धन बटोरने के लिए किया। इससे आहत होकर प्रदेश महासचिव अर्जुन चौहान, प्रदेश उपाध्‍यक्ष डॉ. अवधेश राजभर सहित दर्जनों साथियों सहित सुभासपा की सदस्‍यता छोड़ने का निर्णय लिया हूं।

वहीं, महेन्‍द्र राजभर की बगावत पर सुभासपा नेता अरुण राजभर ने एक निजी चैनल से कहा कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी एक प्रयोगशाला की तरह है। यहां सीखने के बाद लोगों को बड़ी डिग्री लेने की आकांक्षा जागती है तो इस तरह की बातें सामने आती हैं। सवाल किया कि महेन्‍द्र राजभर बहुत लम्बे समय से पार्टी में हैं, आज अचानक से क्‍या हो गया? उन्‍होंने यह भी कहा कि वे सुभासपा कार्यकर्ताओं का सम्‍मान करते है। उन्‍हें मनाने की कोशिश की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments