To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में जड़ी-बूटी की दुकान पर छापा : प्रतिबंधित जानवरों का अंग बरामद, पांच गिरफ्तार

बलिया। शहर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत शहीद पार्क चौक स्थित एक जड़ी-बूटी की दुकान में रविवार की शाम वन विभाग, एसओजी व पुलिस की संयुक्त टीम ने फिल्मी अंदाज में छापेमारी की। टीम ने दुकान से प्रतिबंधित वन्य जीवों से जुड़े अंग व हड्डी बरामद होने का न सिर्फ दावा किया है, बल्कि पांच लोगों को गिरफ्तार भी किया है। इन पर संगीन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं, गिरफ्तार दुकानदारों के परिजनों ने बरामद सामग्री को आर्टिफिशियल बताया है। उनका दावा है कि जांच करा ली जाय, स्थिति साफ हो जायेगी।

शहर कोतवाली क्षेत्र के शहीद पार्क चौक के समीप स्थित पारसनाथ गुप्ता की दुकान में रविवार की शाम वन विभाग बलिया, एसओजी और शहर कोतवाली की टीम ने संयुक्त रूप से छापा मारा। इस दौरान दुकान से शेर के नाखून, हाथी के दांत, हिरण व कछुआ की खाल सहित अन्य प्रतिबंधित जानवरों के अंग मिलने की बात कही जा रही है। इन जानवरों के अंगों का उपयोग औषधि तथा तांत्रिक क्रियाओं में किया जाता है। टीम ने प्रतिबंधित जानवरों के अंगों को जब्त करने के साथ ही दुकान संचालक पारसनाथ गुप्ता और रोशन कुमार को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, पूछताछ के आधार पर पुलिस ने तीन और लोगों को गिरफ्तार किया। 

डीएफओ श्रद्धा यादव ने बताया कि वन विभाग की ओर से यह कार्रवाई गोपनीय सूचना के आधार पर की गई है। सूचना मिली थी कि यहां पर प्रतिबंधित जानवरों के अंगों का व्यापार काफी समय से किया जा रहा है। इसी आधार पर चौक क्षेत्र में छापेमारी की गई। यहां एक प्रतिष्ठान से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनके गोदाम को सील कर दिया गया है। उनसे हुई पूछताछ के आधार पर आसपास की दुकानों पर भी छापेमारी कर और तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने दावा किया कि बरामद सामान असली है। 

दुकानदार पुत्र का दावा, सभी सामान आर्टिफिशियल

जड़ी बूटी दुकानदार के पुत्र राहुल गुप्ता का कहना है कि पुलिस टीम आई थी। छापेमारी में जो कुछ सामान बैग में भरकर ले गई है, वह असली वन्य जीवों के अंग नहीं है। सभी सामान आर्टिफिशियल है। 

वन विभाग ने ऐसे बिछाया जाल

वन विभाग ने पुलिस के साथ मिलकर जाल बिछाया तथा अपने ही एक सदस्य को वन्य जीवों के अंगों से जुड़ी सामान की लिस्ट दुकानदार को दी। दुकानदार ने लिस्ट के हिसाब वन्य जीवों से जुड़े सामान को निकाला, तभी पुलिस की टीम ने दुकान एवं गोदाम में घुसकर सारा सामान जब्त कर लिया।

Post a Comment

0 Comments