To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में विश्व हिंदू परिषद ने कुछ यूं मनाया 58वां स्थापना, जानें इससे जुड़ी खास बातें

बलिया। टाउन हॉल बापू भवन में विश्व हिंदू परिषद का 58वां स्थापना दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि विश्व हिंदू परिषद के प्रांत उपाध्यक्ष ओमकार राय शर्मा ने विश्व हिंदू परिषद की स्थापना से जुड़ी तमाम बातें साझा किया। 

कहा कि विश्व हिंदू परिषद की स्थापना 29 अगस्त, 1964 में श्री कृष्ण जन्माष्टमी के दिन राष्ट्रीय संघ सेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक गुरु जी, दादा साहब आप्टे जी एवं स्वामी चिन्मयानंद जी के नेतृत्व में मुंबई (महाराष्ट्र ) के सांदीपनि आश्रम में सेवा, सुरक्षा और संस्कार के भाव को स्थापित करने के लिए किया गया। विश्व हिंदू परिषद आज अपना 58वां स्थापना दिवस कार्यक्रम मना रहा है। 

इन 58 वर्षों में विश्व हिंदू परिषद ने अनेक चुनौतियों का सफलता पूर्वक सामना किया है। विश्व हिंदू परिषद ने अयोध्या में भव्य श्री राम मंदिर के स्वप्न को साकार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। विश्व हिंदू परिषद अपने कार्यक्रमों के माध्यम से भारतीय जनमानस में अपनी सभ्यता, संस्कृति, संस्कार और परंपराओं को आत्मसात करने में सहायता करता है। इससे पहले कार्यक्रम में भारत माता व राम दरबार के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन और पुष्पार्चन कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की गई।

अपने प्रस्तावना में प्रांत सह मंत्री और जिला अध्यक्ष मंगल देव चौबे ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद न सिर्फ भारत, बल्कि विदेशों में भी अपने लोगों के बीच अपनी संस्कृति का प्रचार प्रसार कर रहा है। बहुत संख्या में विदेशों में भी जो भारतीय बसे हुए हैं, उनके बीच अपनी संस्कृति अपने संस्कार और अपने धर्म की बातों को सफलतापूर्वक पहुंचा रहा है। विशिष्ट अतिथि श्रीनाथ बाबा मठ के महंत कौशलेंद्र गिरि ने कहा विश्व हिंदू परिषद अपने मातृशक्ति, दुर्गा वाहिनी, बजरंग दल जैसे आनुषांगिक इकाइयों द्वारा समाज में प्रत्येक वर्ग के बीच समान रूप से अपनी उपस्थिति दर्ज किए हुए है। आगामी वर्षों में विश्व हिंदू परिषद और बेहतर कार्य करेगा, इसकी हम सब अपेक्षा करते हैं। समाज के अंतिम वर्ग तक विश्व हिंदू परिषद सेवा, सुरक्षा, संस्कार की अपनी बातें पहुंचाता रहेगा। 

आज का यह कार्यक्रम विश्व हिंदू परिषद का केंद्रीय कार्यक्रम था। इससे पूर्व अलग-अलग प्रखंडों, गांव और ग्राम समितियों में स्थापना दिवस के 250 कार्यक्रम आयोजित किए गए, जो गोरक्ष प्रांत में एक कीर्तिमान है। स्थापना दिवस के आज के कार्यक्रम में 162 लोगों ने विश्व हिंदू परिषद की सदस्यता ग्रहण की। विश्व हिंदू परिषद के पूर्व जिलाध्यक्ष और कार्यक्रम अध्यक्ष राजनारायण तिवारी ने भी स्थापना दिवस कार्यक्रम में उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया। अपील की कि अपने आगे आने वाली पीढ़ी को अपनी जड़ों से जोड़ कर के रखें। उनके अंदर अनुशासन के साथ-साथ सेवा और संस्कार के भाव को देने की भी कोशिश करते रहे। 

कार्यक्रम में भारती सिंह, प्रान्त संगठन मंत्री, पूर्व छात्र परिषद ईश्वरन श्री, नगर सह संघचालक श्याम जी, अरुण सिंह, अर्जुन जी, अजय श्रीवास्तव, संजीव दूबे बब्लू, भानु तिवारी, मनीष, संजेश, मोहित दूबे, राजू पटेल, शुभम यादव,  सौमित्र, मनोज, अवनींद्र आदि उपस्थित रहे। अध्यक्षता पूर्व जिलाध्यक्ष, विहिप राजनारायण तिवारी व संचालन विश्व हिंदू परिषद के जिला कार्याध्यक्ष सुनील कुमार यादव ने किया।

Post a Comment

0 Comments