To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

Flood In Ballia : गंगा की बाढ़ से कटा दर्जनों गांवों का सम्पर्क, कई स्कूल-कालेजों में घुसा पानी

मझौवां, बलिया। आहिस्ता-आहिस्ता ही सही गंगा की लहरें हाई फ्लड लेबल की ओर बढ़ती जा रही है। इससे फ्लड एरिया के निचले हिस्सों में बाढ़ का पानी पूरी तरह फैल गया है। गायघाट गेज पर नदी और हाई फ्लड लेबल 60.390 के बीच सिर्फ 76 सेमी का फासला है, जबकि जलस्तर में प्रति घंटे एक सेमी का बढ़ाव जारी है।

गंगा की बाढ़ से फ्लड एरिया के गांवों में तबाही का मंजर दिखने लगा है। शहर के महाबीर घाट से लेकर टेंगरही तक एनएच 31 के दक्षिण बसे दर्जनों गांवों के सम्पर्क मार्ग डूब गये है। इससे लोगों का आवागमन दुरूह हो गया है। प्रशासन दूबेछपरा के अलावा अन्य स्थानों पर नाव की व्यवस्था भी नहीं कर सका है। 

सोमवार को दुबहर थाने के साथ ही राम सिंहासन इंटर कालेज परिसर में भी पानी घुस गया। लोग अपने दैनिक जीवन के सामानों व मवेशियों के साथ सड़क पर आ गये है। लोग सड़क किनारे प्लास्टिक के टुकड़ों के नीचे वेवश जीवन गुजार रहे है। बाढ़ के पानी से बैरिया तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत गोपालपुर व नौरंगा की स्थिति भयावह होती जा रही है। नौरंगा के लोगों का कहना है कि अब तक प्रशासन ने उनकी सुधि नहीं ली। 


उधर, केन्द्रीय जल आयोग गायघाट गेज पर सोमवार की सुबह आठ बजे नदी का जलस्तर 59.610 मीटर रिकार्ड किया गया, जबकि यहां हाई फ्लड लेबल 60.390 मटर है। वहीं, डीएसपी हेड, चांदपुर व मांझी में घाघरा भी बढ़ाव पर है। पिपराघाट पर टोंस नदी भी उफान है। 


हरेराम यादव

Post a Comment

0 Comments