To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : अधिवक्ताओं का आंदोलन उग्र, फूंका तहसीलदार का पुतला

बैरिया, बलिया। तहसीलदार के खिलाफ 17 दिन से बैरिया तहसील में क्रमिक अनशन पर बैठे अधिवक्ताओं का आंदोलन तल्ख होता दिख रहा है। मंगलवार को अधिवक्ताओं ने तहसीलदार शैलेंद्र चौधरी का प्रतीकात्मक शव यात्रा निकालने के बाद पुतला फूंका। अधिवक्ताओं का कहना है कि उपजिलाधिकारी बैरिया आत्रेय मिश्र व कोतवाल धर्मवीर सिंह के सामने तहसीलदार ने बुजुर्ग अधिवक्ता प्रेम चंद्र श्रीवास्तव के साथ ज्यादती की, फिर तहसीलदार का स्थानांतरण कर कार्रवाई की इतिश्री कर दी गई। 

अधिवक्ताओं का कहना है कि मामले में जांच कर रहे अपर जिलाधिकारी से न्याय की उम्मीद नहीं है। आज तक उन्होंने अधिवक्ताओं से वार्ता तक नहीं किया है। ना ही इस प्रकरण पर किसी का बयान दर्ज किया गया है। इस बीच जनपद भर के तहसीलों के न्यायिक कार्य का बहिष्कार अधिवक्ताओं ने शुरू कर दिया है। हालांकि जनता को इससे भारी असुविधा हो रही है। हम अधिवक्ताओं को यह निर्णय मजबूरी में लेना पड़ा है। पुतला दहन व क्रमिक अनशन करने वाले अधिवक्ताओं में कलेक्ट्रेट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मदनलाल वर्मा, बैरिया के कार्यकारी अध्यक्ष उमेश सिंह, हरिशंकर प्रसाद, चंद्रशेखर यादव, रूद्र देव कुंअर, शिवजी सिंह, रामनिवास सिंह, रामलाल सिंह, देवेंद्र मिश्र, कमलाकांत सिंह, जाकिर हुसैन, रामकुमार यादव, राम प्रकाश सिंह, राजकुमार तिवारी, विजय प्रताप सिंह, अजय सिंह, रमेश सिंह, कृष्णानंद सिंह सहित दर्जनों अधिवक्ता शामिल थे।


शिवदयाल पांडेय मनन

Post a Comment

0 Comments