To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

दर्दनाक हादसा : कुंआ में उतरे सगे भाईयों समेत तीन की मौत

कानपुर। बिल्हौर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत मोहद्दीनपुर गांव के पुरवा गौरी में कुएं में गिरी पड़िया को निकालने उतरे सगे भाइयों समेत तीन युवक अचेत हो गए। वहीं, चौथे को बेहोश होने पर ग्रामीणों ने बाहर खींच लिया। फिर ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने सभी को बाहर निकलवाकर सीएचसी भेजा, जहां से सभी को एलएलआर अस्पताल रेफर कर दिया। सभी को एलएलआर अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डाक्टरों ने सगे भाइयों समेत तीन को मृत घोषित कर दिया। चौथे की हालत गंभीर बनी है।

गौरी निवासी मेवालाल निषाद की पड़िया गांव स्थित 25 फीट गहरे कुएं में रविवार की शाम को गिर गई। पड़िया गिरने पर मेवालाल के भाई रामगुलाम का बेटा प्रदीप (18) तथा वहीं के रहने वाले रामकुमार के 20 वर्षीय बेटे के साथ कुएं में उतरा। दोनों ने रस्से से पड़िया को बांधा, लेकिन ऊपर लाने से पहले दोनों जहरीली गैस की चपेट में आने से अचेत होकर गिर पड़े।

कोई हरकत नहीं हुई तो शैलेंद्र का छोटा भाई योगेंद्र (19) भी कुएं में उतर गया। वह दोनों को निकाल पाता, इससे पहले ही वह भी अचेत हो गया। तीनों के बेहोश होते ही गांव में कोहराम मच गया। उन्हें बचाने के लिए मेवालाल का भाई रामबहादुर (42) को रस्सा बांधकर नीचे उतारने लगा, लेकिन आधी दूरी तक जाते-जाते रामबहादुर भी अचेत होने लगे। फिर ग्रामीणों ने उन्हें ऊपर खींचकर सीएचसी बिल्हौर भेजा। सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने ग्रामीणों के मुंह में गीले कपड़े बंधवाकर नीचे उतारा। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद तीनों को कुएं से निकाला जा सका। पुलिस ने तीनों को सीएचसी बिल्हौर भेजा जहां डाक्टरों ने सभी को एलएलआर अस्पताल रेफर कर दिया। देर रात एलएलआर में तीन को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। रामबहादुर का उपचार चल रहा है। 

Post a Comment

0 Comments