To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में घाघरा का तेवर तल्ख, डीएम ने लिया कटान स्थल का जायजा ; विधायक ने की जिम्मेदारों की शिकायत

बैरिया, बलिया। सुरेमनपुर दियराचंल के गोपाल नगर टाढ़ी पर बाढ़ विभाग द्वारा कराये गये कटानरोधी सुरक्षात्मक कार्य सरयू नदी में विलीन होने की सूचना पर पहुंची जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने निरीक्षण कर विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। कटानरोधी सुरक्षात्मक कार्य के सरयू नदी में विलीन हो जाने के संदर्भ में मौजूद बाढ़ विभाग के अधिकारियों व ग्रामीणों से बात की। ग्रामीणो को  सलाह दिया कि वे सुरक्षित स्थानों पर चले जाएं।उन्हें आवासीय भूमि उपलब्ध कराने के लिए जल्द ही कार्रवाई की जाएगी। 

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को कटान की खबर प्रमुखता से मीडिया में आने के बाद जिलाधिकारी अचानक बिना किसी सूचना के गोपाल नगर टाड़ी के कटान स्थल पर पहुंच गई। उन्हें देख बाढ़ विभाग के अधिकारियों में अफरा तफरी मच गई। अधिकारियों के हाथ-पांव फूलने लगे। ग्रामीण जिलाधिकारी को देख अपनी व्यथा सुनाने लगे। दर्जनों महिलाओं ने जिलाधिकारी को अपना दर्द सुनाया। जिसे जिलाधिकारी ने पूरे इत्मीनान के साथ सुना और उसके निवारण का आश्वासन दिया। पहले से मौके पर मौजूद विधायक जयप्रकाश अंचल ने कटान रोधी कार्य में भ्रष्टाचार की शिकायत जिलाधिकारी से की। 

कहा कि पहले ही गलत तरीके से प्राक्कलन तैयार किया गया था। कटान रोधी कार्य के नाम पर धन का बंदरबांट किया गया था। जिलाधिकारी ने पूरे प्रकरण की जांच कराने का भरोसा विधायक को दिया। मौके पर बाढ़ विभाग के अधिशासी अभियंता संजय मिश्रा, एसडीओ अमृतलाल सहित अन्य एसडीओ व अवर अभियंता मौके पर मौजूद रहे।

विधायक के सामने निरूत्तर दिखे जिम्मेदार

कटानरोधी सुरक्षात्मक कार्य सरयू नदी में विलीन होने की सूचना पर पहुंचे विधायक जयप्रकाश अंचल ने बाढ़ विभाग के अधिकारियों से पूछा कि कटानरोधी कार्य होने के बाद कैसे सुरक्षात्मक कार्य नदी में विलीन हो गया ? इसका कोई जवाब बाढ़ विभाग के अधिकारियों के पास नहीं था। विधायक ने जमकर खरी खोटी सुनाई और कहा कि आप लोगों के इस आचरण से ऐसा लग रहा है कि पूरा दियराचंल ही सरयू नदी में समा जाएगा। विधायक ने कहा कि इस मामले में संबंधित मंत्री व सचिव से बात करूंगा। विधानसभा में भी इस मामले को उठाऊंगा। कहा कि यहां धांधली की गई है। बाढ़ विभाग चुप्पी साधे हुए हैं। इसकी जांच होगी। अगर जल्द इस बाबत उचित कार्रवाई नहीं होती है तो मैं जनता को साथ लेकर आंदोलन का रास्ता अख्तियार  करूंगा।

डीएम से पुलिस की शिकायत

कटान पीड़ितों की पीड़ा जानने के लिए कटान पीड़ितों के बीच पहुंची जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल से ग्रामीणों ने गोपाल नगर पुलिस चौकी के कर्मियों पर अवैध वसूली का आरोप लगाते हुए कहा कि हम लोग बसने के लिए दूसरे के खेत में मिट्टी भरवा कर झोपड़ी लगा रहे थे तो गोपाल नगर पुलिस चौकी के सिपाही आकर प्रति ट्रैक्टर 500 रुयया सुविधा शुल्क मांगने लगे। नहीं देने पर ट्रैक्टर को पुलिस चौकी में ले जाकर बंद कर दिया। जिलाधिकारी ने कटान पीड़ितों को बताया कि शाम को उपजिलाधिकारी को मौके पर भेज रही हूं। जांच कराऊंगी,.जो दोषी मिलेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।


शिवदयाल पांडेय मनन

Post a Comment

0 Comments