To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : खूंखार बंदरों के आतंक से दहशत में कर्णछपरा गांव, फिर एक व्यक्ति को किया लहूलुहान

बैरिया, बलिया। दोकटी थाना क्षेत्र के कर्णछपरा  गांव में दहशत का पर्याय बन चुका मतवाला बंदर शुक्रवार को भी एक व्यक्ति पर टूट पड़ा। उन्हें बुरी तरह काटकर घायल कर दिया। उनका इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य सोनबरसा में चल रहा है। बंदरों के आतंक से ग्रामीण दहशत में है। दिन में घर से निकलना और रात में छत पर सोना, मुश्किल हो गया है। बावजूद इसके न तो प्रशासन आगे आ रहा है, न ही कोई और जिम्मेदार। 

कर्णछपरा गांव में लाल बन्दरों का आतंक खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। काफी दिनों से लोग परेशान है। बंदरों ने अब तक दो दर्जन से अधिक लोगों को काट चुका है। परेशान ग्रामीण कई बार प्रशासन से शिकायत कर चुके है, लेकिन अभी तक उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ। शुक्रवार को बंदरों ने कर्णछपरा उत्तर टोला गांव निवासी लल्लन ततवा पर पीछे से हमला कर दिया। उन्हें सीएचसी सोनबरसा पहुंचाया गया, जहां इलाज चल रहा है। 

गांव के लोग बताते है कि खूंखार बंदरों से हर कोई दहशत में है। लोगों में हमेशा दहशत बनी रहती है कि बंदर कही हमला न कर दे। बंदर लोगों का मांस नोचकर खा जा रहे है। इसकी शिकायत कई बार सम्बंधित अधिकारियों से की गई, पर अब तक बंदर को पकड़वाने के लिए वन विभाग ने कोई पहल नहीं किया। गांव निवासी शिक्षक नीरज सिंह ने बताया कि बंदरों ने अब तक दो दर्जन से अधिक लोगों को काटकर घायल कर चुका है। वही, गांव निवासी हरि नारायण सिंह ने वन विभाग के बैरिया कार्यालय में वन क्षेत्राधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर उचित कार्रवाई की मांग की है। 


शिवदयाल पांडेय मनन

Post a Comment

0 Comments