To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया के लाल साहित्यकार प्रो. अनिल राय को मिला संत कबीर सम्मान, खुशी की लहर

बलिया। जिले के कोटवा नारायणपुर निवासी वरिष्ठ साहित्यकार प्रोफ़ेसर अनिल राय को संत कबीर पर केंद्रित साहित्यिक अवदान के लिए हिंदुस्तानी अकादमी (उत्तर प्रदेश सरकार) प्रयागराज द्वारा संत कबीर सम्मान देने की घोषणा की गई है। इस सम्मान के अंतर्गत उन्हें चार लाख रुपये प्रदान किये जायेंगे।

प्रो. अनिल राय वर्तमान में हिन्दी विभाग, दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर के पद पर कार्यरत हैं। इसके साथ ही वे दिल्ली विश्वविद्यालय के अंतरराष्ट्रीय कार्यालय में डीन, अंतरराष्ट्रीय संबंध (मानविकी एवं समाज विज्ञान) हैं। वे वर्तमान में दौलत राम कॉलेज ( दिल्ली विश्वविद्यालय) की गवर्निंग बॉडी के सदस्य है तथा देशबंधु कॉलेज (दिल्ली विश्वविद्यालय) की गवर्निंग बॉडी में कोषाध्यक्ष हैं।

प्रोफेसर अनिल राय का जन्म बलिया जिले के कोटवा नारायण पुर में हुआ। बारहवीं तक की शिक्षा श्री सिद्धेश्वरनाथ इंटर कॉलेज कोटवा नारायणपुर से हुई है। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से बीए, एमए, एमफिल तथा पीएचडी की शिक्षा प्राप्त की है। इनकी महत्वपूर्ण पुस्तकें हैं 'निर्गुण काव्य में नारी', 'स्त्री के हक में कबीर', 'आदिकालीन हिन्दी साहित्य: अध्ययन की दिशाएं', 'निबंधों की दुनिया: शिवपूजन सहाय', 'चीनी लोक कथाएं', 'माओ के देश में' तथा 'पश्चात्य काव्यशास्त्र: कुछ सिद्धांत कुछ वाद'। प्रो. राय भारत सरकार की विभिन्न समितियों और केंद्र एवं राज्य सरकार के आयोगों में सक्रिय सदस्य हैं। राजस्थान केंद्रीय विश्वविद्यालय के विद्वत परिषद के भी सदस्य हैं। कई विदेशी विश्वविद्यालयों के सम्मेलनों में अपनी भूमिका निभाई है। प्रो. अनिल राय को अकादमी सम्मान प्राप्त होने से जिले का सम्मान बढ़ा है। इस सम्मान से जिले के साहित्य जगत में हर्ष है।

Post a Comment

0 Comments