To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

पलक झपकते ही लाशों से पट गई जमीन, दिल दहला देने वाला है हादसे का मंजर

नई दिल्ली। उत्तराखंड में यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर डामटा रिखाऊं खड्ड के पास अनियंत्रित बस खाई में गिर गई। डामटा में बस के खाई में गिरते ही अफरा-तफरी और चीख-पुकार मच गई। इस दर्दनाक हादसे के बारे में जो सुना, दौड़ा चला आया। हादसे का शिकार हुई बस के परखच्चे उड़ गए है। वहीं, जमीन शवों से पट गई। वहां का मंजर देख लोगों की रूह कांप गई। सूचना मिलते ही पुलिस और एसडीआरएफ की टीम पहुंचकर बचाव कार्य शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आपदा कंट्रोल रूम पहुंचे हैं। उन्होंने घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट है कि बस (यूके-04 1541) हरिद्वार से चली थी। ड्राइवर और कंडक्टर की सीट को छोड़कर बस में 28 यात्री बैठ सकते थे। सभी यात्री मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के निवासी बताए जा रहे हैं। थानाध्यक्ष पुरोला अशोक कुमार ने बताया कि 26 शव निकाले जा चुके हैं, जिनकी शिनाख्त की कोशिश की जा रही है। बस सवार उदय सिंह और उसकी पत्नी हकी राजा को रेस्क्यू किया गया है। हकी राजा को डामटा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। उदय सिंह को हल्की चोटें हैं। हालांकि, जिला आपदा प्रबंधन केंद्र का दावा है कि बस में 27 से 28 लोग सवार थे।

हादसे पर प्रधानमंत्री मोदी ने दुख जताया है। कहा कि उत्तराखंड में हुआ बस हादसा अत्यंत पीड़ादायक है। जिन लोगों ने अपने प्रियजनों को खो दिया है, उनके प्रति मैं अपनी शोक-संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार की देख-रेख में स्थानीय प्रशासन मौके पर हरसंभव सहायता में जुटा है। 

Post a Comment

0 Comments