To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

ठेकेदार से रुपये मांगने में आरोपित अधिशासी अभियंता बर्खास्त

लखनऊ। मोबाइल फोन पर एक ठेकेदार से धन की मांग करने के आरोप में मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के निलंबित अधिशासी अभियंता को बर्खास्त कर दिया गया है। आरोप तय होने के बाद पावर कारपोरेशन ने शनिवार को यह बड़ी कार्रवाई की। 

गौरतलब हो कि गोमतीनगर विद्युत वितरण निगम के तत्कालीन अधिशासी अभियंता विजय शंकर जौहरी और ठेकेदार ओपी सिंह के बीच बातचीत का एक आडियो पिछले साल इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ था। आडियो में विजय शंकर जौहरी ठेकेदार से रिश्वत की मांग कर रहे थे। मामला सामने आने पर मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के एमडी ने आराेपी अधिशासी अभियंता को निलंबित कर दिया था। वहीं, जांच के लिए बनी समिति भी बनी थी। अधिशासी अभियंता ने 11 नवंबर 2021 को समिति के सामने बयान दिया था कि वायरल आडियो में उसकी आवाज नहीं है। फिर समिति ने आरोपी अधिशासी अभियंता के आवाज की जांच फारेंसिक लैब से कराने का निर्णय लिया। आइएफओ फारेंसिक स्टैंडर्ड एंड रिसर्च कंपनी ने इस साल सात जनवरी को अधिशासी अभियंता के आवाज का नमूना लिया,  जिसमें उनके वायरल आडियो के शब्दों को ही दोहराया गया। वायरल आडियो और लिये गए आवाज के नमूने का मिलान किया गया। दोनों ही आवाज एक ही व्यक्ति की निकली। जिस पर जांच समिति ने पावर कारपोरेशन को आरोपी अधिशासी अभियंता के खिलाफ जांच के लिए पत्र लिखा। इस पर कारपोरेशन ने आरोपी अधिशासी अभियंता विजय शंकर जौहरी को सेवा से बर्खास्त कर दिया।



Post a Comment

0 Comments