To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

यूपी सरकार ने अल्पसंख्यक समुदाय और युवाओं के लिए खोला खजाना : राज्यमंत्री

बलिया। उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ एवं हज राज्यमंत्री दानिश अंसारी ने वर्ष 2022-23 के बजट की सराहना की है। कहा कि बजट में लोक कल्याण संकल्प पत्र के अनुसार प्रदेश के समग्र विकास के साथ ही गांव, गरीब, किसान श्रमिक, युवाओं एवं महिलाओं के साथ सभी वर्गो के हितों का ध्यान रखा गया है। उन्होंने कहा कि यह बजट प्रदेश के किसानों की आय बढ़ाने और प्रदेश को वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने की दिशा में समर्थ है।

श्री अंसारी ने अल्पसंख्यक समुदाय के हितों की सुरक्षा एवं इनके क्षेत्रों में अवस्थापना विकास की योजनाओं को बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी का धन्यवाद दिया। कहा कि यह बजट अल्पसंख्यक समुदाय के सर्वागीण विकास में सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने बताया कि बजट में अरबी फारसी मदरसों के आधुनिकीकरण किये जाने की व्यवस्था की गई है। अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में अवस्थापना विकास, शिक्षा तथा पेयजल की योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी आयेगी। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के छात्रों के लिए पूर्वदशम छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 में 600 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित, दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत छात्रवृत्ति हेतु 195 करोड़ 50 लाख रूपये की धनराशि का प्रावधान, अरबी फारसी मदरसों के आधुनिकीकरण की योजना के लिए 479 करोड़ 07 लाख की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है। अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में अवस्थापना विकास, शिक्षा तथा पेयजल की योजनाओं के विकास हेतु संचालित मल्टी सेक्टर्स डिस्ट्रक्ट प्लान के विभिन्न घटकों के अन्तर्गत कुल 508 करोड़ 18 लाख रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है।

बजट में प्रदेश में खेलो को बढ़ावा देने, शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओं को तकनीकी रूप से सक्षम बनाने के लिए निःशुल्क टैबलेट/स्मार्टफोन वितरण करने तथा युवाओं के बीच विभिन्न क्षेत्रों में उद्यमशीलता एवं नवाचार को बढ़ावा दिए जाने की सराहना की। कहा कि प्रदेश के पावरलूम बुनकरों को रियायती दरों पर विद्युत उपलब्ध करायी जी रही है। इस हेतु 250 करोड़ रूपये की व्यवस्था बजट में की गई है। साथ ही हथकरघा बुनकरों की परम्परागत ऊर्जा स्त्रोतों पर निर्भरता को समाप्त करते हुए सौर ऊर्जा के प्रयोग हेतु पावरलूम बुनकरों एवं हथकरघा बुनकरों को सोलर इन्वर्टर दिये जाने हेतु मुख्यमंत्री बुनकर सौर योजना के अन्तर्गत 10 करोड़ रूपये की धनराशि का प्रावधान किया गया है।

Post a Comment

0 Comments