To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : जिला पंचायतराज अधिकारी की जांच में खुली सफाईकर्मियों की पोल, तीन सस्पेंड ; मचा हड़कम्प

बलिया। जिला पंचायतराज अधिकारी यतेन्द्र सिंह ने तीन सफाईकर्मियों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है। निलंबित सफाई कर्मियों में गड़वार ब्लाक की ग्राम पंचायत फेफना के सफाईकर्मी धर्मेन्द्र कुमार राम व गणेश यादव तथा हनुमानगंज ब्लाक क़ी ग्राम पंचायत सागर पाली की सफाई कर्मी श्रीमती मान्ती देवी शामिल है। निरीक्षण में तीनों कर्मचारी न सिर्फ अनुपस्थित मिले थे, बल्कि गांव में गंदगी का अम्बार भी मिला था। इन पर अपने पदीय दायित्वों का निर्वहन न करने तथा अन्य कार्य में संलिप्त होने के अलावा कई आरोप है। निलम्बन अवधि में धर्मेन्द्र कुमार राम तथा गणेश यादव को विकास खण्ड चिलकहर से सम्बद्ध किया गया है। इस प्रकरण की जांच अपर जिला पंचायतराज अधिकारी करेंगे। 

जिला पंचायतराज अधिकारी ने सोमवार को गड़वार ब्लाक की ग्राम पंचायत फेफना के सफाई तथा विकास कार्य का निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान सफाई कर्मी धर्मेन्द्र कुमार राम व गणेश यादव अनुपस्थित मिले थे। पंचायत भवन परिसर एवं उसके आसपास गन्दगी का अम्बार था। विभिन्न आरोपों के जिला पंचायतराज अधिकारी ने अनुशासनिक कार्यवाही प्रस्तावित करते हुए धर्मेन्द्र कुमार राम व गणेश यादव को बिना किसी सूचना के अपने तैनाती की ग्राम पंचायत से अनुपस्थित रहने, निरीक्षण के दौरान ग्राम सभा में चारों तरफ एवं पंचायत भवन के सामने गन्दगी का अम्बार मिलने, पंचायत भवन के अन्दर बड़ी बड़ी धास की सफाई न करने, पंचायत भवन में झाले लगे होने, जूनियर हाई स्कूल फेफना में गन्दगी का अम्बार मिलने, बिना कार्य किये फर्जी तरीके से पेरोल प्रेषित कर वेतन प्राप्त करने, उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना तथा जॉब चार्ट के अनुसार उपस्थित होकर कार्य न करने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। निलम्बन अवधि में धर्मेन्द्र कुमार राम को जीवन निर्वाह भत्ता देय होगी। 

उधर, जिला पंचायतराज अधिकारी यतेन्द्र सिंह द्वारा विकास खण्ड हनुमानगंज की ग्राम पंचायत ग्राम पंचायत सागरपाली का निरीक्षण किया। इस दौरान सफाई कर्मी श्रीमती मान्ती देवी अपने तैनाती की ग्राम पंचायत में कई दिनों से अनुपस्थित पायी गयी। जिला पंचायतराज अधिकारी ने बिना किसी सूचना के ग्राम पंचायत से अनुपस्थित रहने, निरीक्षण के दौरान ग्राम सभा में चारो तरफ गन्दगी मिलने, बिना कार्य किये फर्जी तरीके से पेरोल प्रेषित कर वेतन प्राप्त करने, उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना तथा जॉब चार्ट के अनुसार उपस्थित होकर कार्य न करने के आरोप में अनुशासनिक कार्यवाही प्रस्तावित करते श्रीमती मान्ती देवी को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। निलम्बन अवधि में श्रीमती मान्ती देवी जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा। निलम्बन अवधि में श्रीमती मान्ती देवी को विकास खण्ड गड़वार से सम्बद्ध किया करते प्रकरण की जांच अपर जिला पंचायतराज अधिकारी को सौंपी गई है। 

Post a Comment

0 Comments